आज का पंचांग - विक्रम संवत 2070 शक संवत 1942 भाद्र मास की सप्तमी तिथि

उन्नाव. आज भाद्रपद की कृष्ण पक्ष सप्तमी तिथि विक्रम संवत 2070 शक संवत 1942। वरिष्ठ ज्योतिषाचार्य पंडित शंकर दयाल त्रिवेदी ने आज के पंचांग के विषय में जानकारी देते हुए बताया कि आज उत्तर दिशा की ओर दिशाशूल है। गुड़ का सेवन करके घर से निकले काम सफल होंगे। इसके साथ ही उन्होंने आज के राशिफल के विषय में भी जानकारी दी।

जय श्री बाबा फटहेश्वर महादेव जी की

11 अगस्त 2020 आज का पंचांग

विक्रम संवत : 2077

शक संवत :1942

संवत्सर नाम :प्रमादी

वार :मंगलवार

ऋतु : वर्षा

माह : भाद्रपद

पक्ष : कृष्ण

तिथि : सप्तमी प्रातः09:08

नक्षत्र : भरणी रात्रि 12:57

योग : गण्ड प्रातः 08:39

करण : बव प्रातः 09:08

चंद्रमा: मेष ( दिन - रात )

सूर्योदय : प्रातः 05:33

सूर्यास्त : सायं 06:36

दिशाशूल : उत्तर

निवारण उपाय : गुड का सेवन कर घर से निकले

राहु काल : दोपहर 03:00 से 04:30

गुलिक काल : दोपहर 12:00 से 01:30

यम गण्ड काल : प्रातः 09:00 से 10:30

आज का राशिफल

मेष राशि : मान सम्मान की वृद्धि, धर्म कार्य में रूचि बढेगी

वृष राशि : आकस्मिक धन लाभ, भोजन शयन में व्यतिक्रम, शत्रुओं से पीड़ा

मिथुन : व्यावसायिक कार्यों में हानि ,सतर्कता बरते, रुपयों का लेनदेन न करें, यात्रा में अकेले न जाऐं

कर्क : शत्रु भय दूर होगा, मन मे प्रसन्नता और उत्साह बना रहेगा

सिंह : मन में अस्थिरता की भावना व्यापत रहेगी, नवीन आशाओं का उदय होगा

कन्या : गृह में मांगलिक कार्य की रूपरेखा बनेगी, मन प्रफुल्लित रहेगा

तुला: अध्यात्म में आप विशेष रूचि लेंगे, न्यायोचित अधिकार की प्राप्ति होगी

वृश्चिक : अभीष्ट कार्य की सिद्धि में अडचनें आयेंगी, आर्थिक हानि का समय है

धनु : स्वप्रयत्नों द्वारा राज्य पक्ष से लाभ होगा, शेयर सट्टे से अच्छे लाभ की संभावना है

मकर : पाप कर्म में रूचि पैदा होने का योग, यात्रा और परदेश गमन में कष्ट

कुम्भ : आर्थिक तंगी के कारण मन अशांत रहेगा, मित्रों का सहयोग नहीं मिलेगा

मीन : छोटी मोटी महत्वाकांक्षा पूरी होने की संभावना, किसी प्रकार का लेनदेन वर्तमान समय में न करें

 



Advertisement