सुहागनगरी में 21 माह की बच्ची के साथ दुष्कर्म, टब में बिठाकर भाग रहे थे आरोपी भीड़ ने दबोचे

फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में आरोपियों ने मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी की। खून से लथपथ होने पर उसे पानी से भरे टब में बिठाकर भागने लगे। भीड़ ने दोनों को पकड़कर जमकर पीटा और उसके बाद पुलिस के सुपुर्द कर दिया। बच्ची के पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया। टॉफी दिलाने के बाद दोनों आरोपी बच्ची को बुलाकर ले गए थे। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर घटना की जानकारी हुई।

मजदूर हैं आरोपी
आगरा के रकाबगंज टीला बालूगंज निवासी राजवीर और कैलाश पड़ोस में ही किराए के मकान में रहते हैं। वह दोनों शहर के एक कारखाने में मजदूरी करते हैं। उनके सामने रहने वाले मकान में रहने वाले एक 21 माह की बच्ची खेल रही थी। तभी वह दोनों वहां पहुंच गए और बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने घर के सामने से बुलाकर ले गए। वह बच्ची को अपने कमरे में ले गए और उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके बाद खून से लथपथ होने पर आरोपी उसे टब में बिठाकर भागने की फिराक में थे। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर परिजनों ने उसकी तलाश की। बाहर देखने पर वह नहीं मिली।

आरोपियों की हुई जमकर पिटाई
आवाज सामने के घर से आ रही थी। जब उन्होंने दरवाजा खोलना चाहा तो वह नहीं खुला। काफी प्रयासों के बाद दरवाजा खोला गया। वहां बच्ची रो रही थी और आरोपी परिजनों को देखकर भागने लगे। परिजनों के शोर मचाने पर आस—पास के लोगों ने उन्हें पकड़ लिया। भीड़ ने आरोपियों को पकड़कर उनकी पिटाई कर दी। मौके पर पहुंचे इंस्पेक्टर श्याम सिंह ने आरोपियों को भीड़ के चंगुल से बचाया और उन्हें पकड़कर थाने ले गई। जहां पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।



Advertisement