गुस्साई नागिन का इंतकाम, 26 ग्रामीणों को बनाया शिकार, ग्रामीणों ने कहा नाग पंचमी के दिन मारा गया था नाग

बहराइच. उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले के चिलबिला गांव में नागिन के आतंक ने लोगों को परेशान कर दिया है। गांव में सांप हर दिन लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं। बीते 10 दिनों में सांपों ने 26 लोगों को अपना निशाना बनाया है। सांपों के आतंक से लोग दहशत में जी रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि नाग पंचमी के दिन नाग के मारे डाने से गुस्साई नागिन बदला ले रही है। नागिन चुन-चुन कर सबको अपना शिकार बना रही है।

नाग को मारा था ग्रामीणों ने

बारिश के कारण खेतों में पानी भर जाने से जहरीले सांप निकल रहे हैं। चिलबिला गांव के अलावा शंकरपुर, बेलभरिया सहित कुछ गांव में दो दर्जन से ज्यादा ग्रामीण सहित आधा दर्जन पशुओं को सांप ने डस लिया है। शंकरपुर में जानवरों को चारा लगाने जा रहे इबरार को नागपंचमी के दिन सांप ने काटने को दौड़ाया। वे भाग कर किसी तरह अपनी जान बचाए। इस बीच किसी ने जहरीले सांप को मार डाला। ग्रामीणों का दावा है कि नाग की मौत से गुस्साई नागिन गांव में आतंक मचा रही है। सांप के डंक में जकड़े ग्रामीणों ने तो गांव छोड़ना भी शुरू कर दिया है।

गांव में दहशत का माहौल

स्थानीय लोगों को कहना है कि नागिन से छुटकारा पाने के लिए सपेरे को बुलाया गया। गांव में पहुंचे सपेरा शरीफा का कहना है कि बारिश में बड़ी संख्या में सांप निकलते हैं। ऐसे में सभी सांप को पकड़ना मुमकिन नहीं है। पीड़ितों ने बताया कि सोते समय उन्हें सर्प दंश का अहसास होता है, लेकिन उन्हें नागिन दिखाई भी नहीं देती है। यहां तक कि झाड़-फूंक करने वाले भी गांव में जाने से कतरा रहे हैं। गांव में दहशत का माहौल है, लोग अपने बच्चों को रिश्तेदारी में भेज रहे हैं।

26 ग्रामीणों को डसा

सांप ने अब तक 26 ग्रामीणों को डस लिया है। इस हफ्ते की शुरुआत में इनमें से एक व्यक्ति की मौत हो गई। सर्पदंश से मरने वाले की पहचान मुंशी राम के रूप में की गई है। सहमे हुए ग्रामीणों का दावा है कि मुंशी राम को उसी सांप ने डसा, जिसने और कई लोगों को डस लिया। ऐसे में अब समूचे गांव के लोग सर्पदंश के कारण दहशत में हैं।

ये भी पढ़ें: Janmanshtami 2020: ब्रज के मुस्लिमों ने पेश की भाईचारे की मिसाल, जन्माष्टमी के लिए तैयार कर रहे श्रीकृष्ण की पोशाक



Advertisement