अभ्यर्थी लॉकडाउन में एडमिट कार्ड दिखाकर कर सकेंगे यात्रा, 9 को ही होगी बीएड प्रवेश परीक्षा

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 31 अगस्त तक चल रहे वीकेंड लॉकडाउन के बीच रविवार, 9 अगस्त को यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा 2020 का आयोजन पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही किया जाना है। यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा का आयोजन करने वाले लखनऊ विश्वविद्यालय ने कल, 4 अगस्त 2020 को परीक्षा के 9 अगस्त को ही आयोजन से सम्बन्धित नोटिस जारी करते हुए लॉकडाउन में परीक्षा केंद्र पर जाने के लिए यातायात सुविधा और महामारी के बीच संक्रमण के खतरे को लेकर परीक्षार्थियों द्वारा उठाये जा रहे समस्याओं का निराकरण किया है। यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा 2020 के लिए नोटिस लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति / चेयरमैन – संयुक्त प्रवेश परीक्षा बी. एड. – 2020 की तरफ से अपने ऑफिशियल वेबसाइट, lkouniv.ac.in पर जारी किया गया।

लॉकडाउन में सार्वजानिक एवं निजी यातायात की छूट

लखनऊ विश्वविद्यालय के नोटिस के अनुसार परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए सभी सार्वजानिक एवं निजी यातायात, जैसे – टेंपो, टैक्सी, ओला, उबर, प्राइवेट व सरकारी बसें, आदि इस वीकेंड यानि 8 और 9 अगस्त 2020 को सुचारु रूप से चलती रहेंगी। नोटिस में कहा गया है कि सभी अभ्यर्थियों को उनके प्रवेश-पत्र के साथ आवागमन की समुचित अनुमति सरकार द्वारा दे दी गई है।

लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा आधिकारिक रूप से दी गयी सूचना के अनुसार यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा 2020 के दौरान प्रत्येक परीक्षार्थी के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए, प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर परीक्षा-कक्षों तथा फर्नीचर इत्यादि को सैनिटाइज कराने की पर्याप्त व्यवस्था, प्रत्येक परीक्षार्थी/कक्ष निरीक्षक एवं परीक्षा से सम्बन्धित हर व्यक्ति का इंफ्रारेड थर्मामीटर द्वारा शारीरिक तापमान मापने के साथ ही मास्क लगाकर ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश देने की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक परीक्षा केंद्र में सेनिटाइजर, हैंड वाश आदि की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। सैनिटाइजेशन की प्रक्रिया के पर्यवेक्षण के लिए केंद्र पर एक विशेष अधिकारी की नियुक्ति की गई है, जो इस कार्य के लिए उत्तरदाई होंगे।

कोविड-19 महामारी की वर्तमान स्थिति को देखते हुए परीक्षार्थी बीएड प्रवेश परीक्षा में सम्मिलित होने से कतरा रहे हैं। ज्यादातर परीक्षार्थी एंट्रेंस एग्जाम को स्थगित करने का मांग कर रहे हैं। ऐसे उम्मीदवार सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री तक से परीक्षा को स्थगित करने की मांग कर रहे हैं।



Advertisement