मुजफ्फरनगर के जंगलों में एक सप्ताह से दिख रही तेंदुए की आहट, दहशत में लाेग

<praveshmalik.reporter@gmail.com>मुजफ्फरनगर ( Muzaffarnagar ) मीरापुर थाना क्षेत्र में श्री शीतला माता बबरे वाली के जंगलों में पिछले एक सप्ताह से तेंदुए के दिखाई देने से लोगों में दहशत बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: ग्राउंड रिपाेर्ट: भीषण गर्मी के बीच यूपी के इस शहर में बिजली-पानी का संकट, लाेग हुए हलकान
<praveshmalik.reporter@gmail.com>

<praveshmalik.reporter@gmail.com>कारण भी है, दरअसल पिछले कई दिनाें से खेतों में काम करने वाले कई किसानों ( farmar) ने जंगल में तेंदुए होने की पुष्टि की है। किसानों का कहना है कि उन्होंने खुद तेंदुए को जंगल मे एक खेत से दूसरे खेत मे जाते हुए देखा है। तेंदुए के जंगल मे दिखाई देने से ग्रामीणों एवं किसानों में दहशत है।

यह भी पढ़ें: यूपी: तीन आईपीएस अधिकारियों समेत 9 पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ सीजेएम कोर्ट में परिवाद दर्ज

<praveshmalik.reporter@gmail.com>मामला थाना मीरापुर क्षेत्र का है। कस्बा मीरापुर के जंगलों में इन दिनों किसानों को तेंदुए का डर सता रहा है। कुछ किसानाें ने अपनी आंखों से तेंदुए काे जंगलों काे घूमते हुए देखने की बात कही जा रही है। ऐसे में किसान अपने गन्ने की फसल काे बांधने भी नहीं जा रहे। दरअसल, इन दिनों खेतों में गन्ना बांधने का कार्य चल रहा है। तेंदुए की दहशत की वजह से ईंख बांधने के लिए मजदूर भी नहीं मिल रहे हैं।

यह भी पढ़ें: B.Ed Entrance Exam 2020: बुखार वाले अभ्यर्थियों के लिए जारी हुआ आदेश, ऐसे दे सकेंगे परीक्षा
<praveshmalik.reporter@gmail.com>

<praveshmalik.reporter@gmail.com>शुक्रवार को दर्जनों किसान इकट्ठा हुए। हाथों में लाठी डंडे और भाले लेकर ये किसान खेतों में पहुंचे और तेंदुए की घंटों तलाश की लेकिन काेई सफलता नहीं मिल सकी। घंटों की पड़ताल के बाद भई किसानाें काे कोई तेंदुआ दिखाई नहीं दिया। खेतों एवं चकरोडों पर मिले कुछ पंजों के निशानों को किसान तेंदुए के पंजों के निशान बता रहे हैं।



Advertisement