मायके आई विवाहिता का अपहरण ! रिपाेर्ट दर्ज कराने के लिए परिजनाें काे देना पड़ा थाने में धरना

मेरठ। थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र में एक विवाहिता नाटकीय ढंग से लापता हाे गई। अपहरण की आशंका जताते हुए परिजनों ने पुलिस काे तहरीर दी लेकिन मामला दर्ज नहीं हुआ। इसके बाद परिजनाें ने महिला के साथ अनहोनी की आशंका जताई और थाने में ही धरना देकर बैठ गए। बाद में पुलिस ने देर रात मामला दर्ज किया।

यह भी पढ़ें: स्वतंत्रता दिवस पर नोएडा पुलिस के 7 जवानों को कमिश्नर ने मेडल देकर किया सम्मानित, देखें लिस्ट

गायब हुई महिला की काफी तलाश करने पर भी जब काेई सुराग नहीं लगा ताे परिजन थाने पहुंचे। परिजनों ने विवाहिता के अपहरण की आशंका व्यक्त करते हुए तहरीर दी लेकिन पुलिस ने कहा कि अभी तलाश कर लो बाद में मामला दर्ज कर लेंगे। इस पर परिजनाें का गुस्सा फूट गया। परिजनाें ने कहा कि बदमाशों ने विवाहिता का अपहरण कर लिया है लेकिन पुलिस काे चिंता नहीं है। रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग को लेकर परिजनों ने रात में ही थाने में धरना दे दिया। काफी देर तक थाने के अंदर ही हाईवाेल्टेज ड्रामा चलता रहा। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया। एसओ लिसाडी गेट प्रशांत कपिल ने शीघ्र ही विवाहिता की बरामदगी का आश्वासन देकर महिला के परिजनाें काे शांत किया है।

यह भी पढ़ें: CBI का PF ऑफिस पर छापा, 8 लाख रिश्वत लेते दो अधिकारी गिरफ्तार, करोड़ों का मामला निपटाने की थी डील

शुक्रवार को शाहजहां कालोनी निवासी शोएब अपने परिजनों के साथ लिसाड़ी गेट थाने पहुंचा। उन्होंने वहां हंगामा करते हुए आरोप लगाया कि उसकी पत्नी नाजिमा गुरुवार शाम पांच बजे से 10 माह की बेटी को लेकर अपनी बहन अफसाना निवासी सरधना के घर कहकर गई थी। इसके बाद उसका मोबाइल फोन स्विच ऑफ हो गया। वह सरधना भी नहीं पहुंची। रिश्तेदारी में भी काफी जगह ढूंडा लेकिन वह मिल नहीं सकी। परिजनाें ने आशंका जताई कि उसका अपहरण कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें: Special: इस जिले में 8 दिन रुके थे महात्मा गांधी, हिंदू-मुस्लिमों की एकता देख हिल गई थी ब्रिटिश सरकार

थाना प्रभारी प्रशांत कपिल ने बताया कि विवाहिता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। बरामदगी के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। विवाहिता के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लगवाया जा रहा है। यह देखा जा रहा है कि महिला ने किससे बात की और उसकी आखिरी लोकेशन कहां पर पाई गई है।



Advertisement