यूपी राेडवेज की पहल, अब बस अड्डे पर ही टिकट के साथ मिलेगा मास्क

गाजियाबाद ( up roadways news ) देशभर में कोविड-19 अपने पांव पसारता जा रहा है। गाजियाबाद में भी लगातार कोविड-19 संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। इसे गंभीरता से लेते हुए परिवहन विभाग ने पहल की है। अब यात्रियों को बस अड्डे पर ही मात्र छह रुपये में मास्क मिलेगा। इसके लिए भी रोडवेज बस अड्डो पर अलग से केंद्र बनेंगे

यह भी पढ़ें: मिड डे मील में कीड़े निकलने के पांच दिन बाद स्कूल पहुंचे विधायक, अधिकारियों के छूटे पसीने

( COVID-19 virus ) अगर आप राेडवेज बस से सफर कर रहे हैं और आपके पास मास्क नहीं है या आपका मास्क कहीं खाे गया है ताे परेशान हाेने की आवश्यकता नहीं है। अब आपकाे रोडवेज बस में ही मास्क उपलब्ध हाेगा। गाजियाबाद में रोडवेज बस अड्डे पर मास्क के लिए काउंटर स्थापित हाे गया है। अन्य बस अड्डों पर भी मास्क केंद्र जल्द बनाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Noida: 9 दिनों में कोरोना से किसी की मौत नहीं, 24 घंटे में मिले 71 कोरोना पॉजिटिव, 68 को छुट्टी मिली

यात्री इन केंद्र से टिकट के साथ मास्क भी खरीद सकते हैं। अगर आप बाजार से मास्क खरीदते हैं ताे एक मास्क दस से 20 रुपये में मिलता है। ऐसे में राेडवेज अब यात्रियों काे माहज छह रुपये में मास्क उपलब्ध कराएगी। राेडवेज अफसरों का कहना है कि सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ यदि यात्रियों के पास मास्क उपलब्ध होगा तो कोविड-19 संक्रमण काे फैलने से काफी हद तक बचा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: यूपी: मॉर्निग वॉक पर निकले भाजपा नेता की गाेली मारकर हत्या, सीएम ने मांगी रिपाेर्ट

अधिकारियों का कहना है कि लॉकडाउन के बाद जब रोडवेज बसों को चलाए जाने की अनुमति मिली थी तो शुरुआती दौर में बहुत कम संख्या में यात्री बस में यात्रा करते थे और सोशल डिस्टेंसिंग की बनाकर रखा जाता था। अब लॉकडाउन खत्म हाेने पर यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। इसके लिए सावधानी बेहद आवश्यक है। सावधानी रखते हुए अब विभाग द्वारा यह फैसला लिया गया है कि टिकट के साथ यात्रियों को कम कीमत पर मास्क भी उपलब्ध कराया जाए।

यह भी पढ़ें: मनचलों की छेड़छाड़ के कारण अमेरिका में पढ़ने वाली CBSE Topper सुदीक्षा की सड़क हादसे में मौत

इस सुविधा का लाभ सबसे अधिक उन लाेगाें काे मिलेगा जो देहात में रहते हैं या अपने मास्क जल्दबाजी में घर ही भूल आते हैं। अब उन्हें कहीं भटकने की आवश्यकता नहीं हाेगी और बस अड्डे पर ही उन्हें मास्क उपलब्ध हाेगा।



Advertisement