अयोध्या में नहीं सजेगा श्री कृष्ण व गणेश पूजा के पंडाल

अयोध्या : कोरोनावायरस के कारण भगवान श्री कृष्ण जन्माष्टमी व गणेश पूजा अयोध्या में पंडाल नही सजाया जा सकेगा। वही अयोध्या के मठ मंदिरों में भी इस उत्सव को सीमित रूप से मनाई जाने के लिए जिला प्रशासन ने संतो से अपील की है।
कोरोना महामारी के कारण रामनवमी मेला, सावन मेला के बाद अब भगवान श्री कृष्ण जन्माष्टमी व गणेश पूजा के आयोजन पर रोक लगा दिया है। जिसको लेकर आज जिला प्रशासन ने शहर के विभिन्न स्थानों पर सजने वाले पंडाल समितियों के साथ समन्वय बैठक कर निर्णय लिया है। जिलाधिकारी श्री अनुज कुमार झा ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है ऐसे में आगामी 11 तारीख को जन्माष्टमी का पर्व तथा 22 तारीख को गणेश पूजा का पर्व है।

का सामना किया जा रहा है दिन प्रतिदिन बीमारी का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है इस बीमारी को दृष्टिगत रखते हुए सार्वजनिक स्थलों पर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी तथा गणेश पूजा का का उत्सव कही भी पंडाल लगाकर नहीं किया जाएगा। इसी के साथ कहीं भी लाइट डेकोरेशन भी नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि महामारी के दृष्टिगत और शासन के गाइडलाइन के अनुसार कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए मंदिरों में जन्माष्टमी का पर्व सोशल डिस्टेंसिंग की दूरी बनाए रखते हुए और मास्क लगाकर किया जाये तथा जो लोग अपने घरों में जन्माष्टमी तथा गणेश पूजा का उत्सव का मनाते हैं वह भी शासन के गाइडलाइन का पालन करते हुए ही पूजा करें। उन्होंने कहा कि प्रायः निरीक्षण के दौरान देखा जा रहा है कि अधिकांश लोग मास्क नहीं लगाते हैं साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नही करते है। अतः आप लोग शासन के गाइडलाइन के अनुसार इस महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए मास्क अवश्य लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें तथा अन्य को भी प्रेरित करे जिससे इस महामारी से सुरक्षित रहा जा सके और इसके फैलने से बचाया जा सके। बैठक के दौरान उन्होंने जन्माष्टमी और गणेश पूजा के पर्व पर साफ-सफाई बनाये रखने हेतु नगर निगम को निर्देशित किया कि आगामी पर्व पर नगर के साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखा जाए तथा कीटनाशक दवाओं के छिड़काव के साथ फाॅगिंग की जाए इसी के साथ तथा साफ और स्वच्छ जलापूर्ति की जाए, विद्युत विभाग को निर्देश दिए गए कि उक्त अवसर पर विद्युत सप्लाई अनवरत रखी जाए।



Advertisement