आगरा में परचून व्यापारी समेत पत्नी और बेटे की हत्या के बाद शवों को जलाने की कोशिश, घर के अंदर से मिले अधजले शव

आगरा ( aagra ) में एक ही परिवार के तीन लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई। इनके शवों को भी जलाने का प्रयास किया गया। सोमवार सुबह दिन निकलते ही जली हुई अवस्था में पति-पत्नी और बेटे के शव मकान के अंदर से मिले। मौके पर पहुंची पुलिस ने प्राथमिक छानबीन के बाद यह माना है कि हत्या के बाद शवों को जलाने की कोशिश किया जाना प्रतीत हाे रहा है। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाते हुए पूरे हत्याकांड की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: आजम के खिलाफ कार्रवाई से भड़के अखिलेश, सीएम योगी से पूछा- इन सत्ताधीशों के अवैध निर्माण कब गिरेंगे

मौके पर पहुंचे एडीजी अजय आनंद ने बताया कि सुबह करीब साढ़े सात बजे पुलिस को सूचना मिली थी कि थाना एत्माद्दौला के चौकी नगला किशनलाल के एक घर में तीन लोगों की लाश मिली है। सूचना पर एसएसपी आगरा बबलू कुमार मौके पर पहुंचे और क्राइम सीन का निरीक्षण करते हुए जांच पड़ताल शुरू की एडीजी ने बताया कि अब तक जो सुराग पुलिस के हाथ लगे हैं उनके आधार पर जल्द ही इस वारदात का खुलासा किया जाएगा। फिलहाल पुलिस इस पूरे हत्याकांड की जांच में जुटी हुई है लेकिन जिस दुस्साहस से दंपती और उनके बेटे की नृशंस हत्या की गई है उसे पूरा आगरा दहल उठा है और क्षेत्र क्षेत्र में सनसनी फैल गई है।

यह भी पढ़ें: दोस्त की जान बचाने के लिए खुद सीने पर झेल गया गोलियां, मौत

घटना थाना एत्माद्दौला के नगला किशन लाल की है। यहां एक मकान में 55 वर्षीय रामवीर उनकी पत्नी मीरा और उनके 22 वर्षीय बेटे बबलू का शव पड़ा मिला। रामवीर परचून की दुकान करते हैं और रविवार शाम को वह अपनी ससुराल से वापस लौटे थे। जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह करीब 6:30 बजे पड़ोसी जब उनकी दुकान पर सामान लेने आए तो उनकी दुकान बंद मिली। रामवीर सुबह ही अपनी दुकान खोल लेते थे और यही कारण है कि पड़ोस के लोग सबसे पहले उन्हीं के दुकान पर पहुंचे थे। सोमवार को जब उनकी दुकान बंद मिली तो पड़ोसियों ने उनके घर का दरवाजा खटखटाया लेकिन कोई आवाज नहीं आई। अंदर से धुआं भी निकल रहा था। पड़ोसियों को जब अनहोनी की आशंका हुई तो उन्होंने तुरंत पुलिस को पूरे मामले की सूचना दी और जब पुलिस ने मकान खोला तो अंदर का दृश्य देखकर सभी सिहर उठे।

यह भी पढ़ें: नाेएडा: लॉकडाउन में पार्टी कर रही विदेशी महिलाएं गिरफ्तार, बीयर की 290 कैन और 7 लग्जरी गाड़ियां भी बरामद

परचून व्यापारी रामवीर उनकी पत्नी मीरा और बेटे बबलू का शव एक ही कमरे में अधजली हुई हालत में पड़ा हुआ था। इनके हाथ भी पीछे से बंधे हुए थे। बताया जा रहा है कि रामवीर के गले में फंदा भी पड़ा हुआ था। इस हत्याकांड की सूचना मिलने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार और आईजी ए. सतीश गणेश व एडीजी अजय आनंद भी मौके पर पहुंचे और पूरे घटना स्थल का निरीक्षण करते हुए मामले की जानकारी ली।

यह भी पढ़ें: नाेएडा: लॉकडाउन में पार्टी कर रही विदेशी महिलाएं गिरफ्तार, बीयर की 290 कैन और 7 लग्जरी गाड़ियां भी बरामद

एडीजी अजय आनंद ने बताया कि प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत हो रहा है कि हत्या करने के बाद शवों को जलाने की कोशिश की गई है। पुलिस अलग अलग एंगल से पूरे मामले की जांच कर रही है। जल्द ही इस पूरे हत्याकांड का खुलासा किया जाएगा। पुलिस को मौके से कुछ सुराग भी हाथ लगे हैं।



Advertisement