दोस्त की जान बचाने के लिए खुद सीने पर झेल गया गोलियां, मौत

मेरठ. उधारी के रुपए लेने गए दो दोस्तों पर फायरिंग और एक की हत्या का मामला सामने आया है। हमलावरों का निशाना दोनों ही दोस्त थे, लेकिन हमले की आशंका के चलते एक दोस्त ने दोस्ती का फर्ज निभाते हुए अपने दोस्त को मौके से भाग जाने को कहा और खुद पीछे भागने लगा। इसके बाद हमलावरों ने पीछे से ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी, जिसमें युवक गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दोस्त की जान बच गई और उसने थाने पहुंचकर घटना की जानकारी दी।

यह भी पढ़ें- फेसबुक के जरिये पुलिस ने किया बड़ी लूट का खुलासा, अपर पुलिस आयुक्त ने की 50 हजार के इनाम की घोषणा

घटना थाना दौराला क्षेत्र की है। जहां युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हाईवे के पास दुस्साहिक वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
युवक की हत्या से घर में कोहराम मच गया है। मृतक युवक कुलदीप के दोस्त सुधांशु ने बताया कि उसे कुलदीप का फोन आया, जिसमें उसने उधार के रूपये लेने के लिए साथ चलने की बात कही थी। हमलावरों ने कुलदीप को पहले सकौती बुलाया था। कुलदीप जब सकौती पहुंचा तो उसे फोन कर मंदारीपुर मार्ग पर आने को कहा गया। जिसके बाद कुलदीप और उसका दोस्त सुधांशु बाइक से वहां पहुंचे तो अजित नाम का शख्स पहले से खड़ा था। कुलदीप के बाइक से उतरते ही इस बीच दो युवक ईख के खेत से निकले। दोनों के चेहरों पर नकाब थे। यह देख कुलदीप ने चिल्लाते हुए कहा भाग प्रिंस जल्दी भाग। प्रिंस तो भाग निकला, लेकिन कुलदीप को घेरकर गोलियां बरसाकर मार डाला गया।

घटनास्थल पर कुलदीप के साथ मौजूद रहे उसके दोस्त सुधांशु उर्फ प्रिंस से सीओ दौराला संजीव दीक्षित ने कई बिंदुओं पर पूछताछ की। पूछताछ में वह उलझ गया। जिस पर पुलिस ने कुलदीप और सुधांशु के मोबाइल फोन जांच के लिए कब्जे में ले लिए। वहीं हत्यारोपियों की तलाश के लिए गई टीमें गठित की गई है।

यह भी पढ़ें- नाेएडा: लॉकडाउन में पार्टी कर रही विदेशी महिलाएं गिरफ्तार, बीयर की 290 कैन और 7 लग्जरी गाड़ियां भी बरामद



Advertisement