'अपनी मौत के लिए मैं खुद जिम्मेदार सभी को राम राम' लिखकर फंदे पर झूल गया युवक

फिरोजाबाद। कोरोना काल में हजारों लोग बेरोजगार हो गए। कोई अभी भी संघर्ष कर रहा है तो कोई परेशान होकर जिंदगी को समाप्त कर चुका है। ऐसे ही हालातों से हारे हुए एक युवक नेे अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। फंदा कसने से पहले उसने सुसाइड नोट लिखा जिसमें परिवारीजनों को बेकसूर बताया और सभी को राम—राम लिखा।

यह था पूरा मामला
थाना एका क्षेत्र के मोहल्ला कुशवाह नगर निवासी प्रेमपाल पुत्र नेम सिंह दिल्ली मजदूरी करने गया था। वहां उसे काम नहीं मिला तो लौटकर अपने गांव आ गया। परिवार की माली हालत खराब होने के कारण वह परेशान रहने लगा था। कई जगह काम की तलाश की लेकिन काम नहीं मिला। मृतक के परिवारीजन मां-बाप, भाई-बहन सभी एक झोपड़ी में समय व्यतीत कर रहे हैं।

नीम के पेड़ पर झूल गया युवक
बताया गया है कि युवक ने बीती रात गांव से कुछ दूर जाकर नीम के पेड़ से गले में रस्सी डालकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। सोमवार सुबह उसका जब लोगों ने उसका शव देखा तब इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे थाना अध्यक्ष रविंद्र कुमार ने नीम के पेड़ से प्रेमपाल के शव को उतारवाया। मृतक की जेब में एक सुसाइड नोट भी मिला है। उसमें लिखा है थानाध्यक्ष एका, मेरे परिवार पर या अन्य किसी पर कोई भी कार्रवाई ना करें क्योंकि मैं अपनी मौत का खुद जिम्मेदार हूं। सभी को राम राम।



Advertisement