आज हलषष्ठी या हरछठ के दिन माताएं संतान के सुख, समृद्धि व दीर्घायु के लिए व्रत रखती है

उन्नाव. आज 9 अगस्त विक्रम संवत 2077 शक संवत 1942 भाद्र माह की छठी तिथि है। आज के दिन हलषष्ठी है। आज के दिन माताएं संतान के सुख, समृद्धि और दीर्घायु के लिए व्रत रखती है। वरिष्ठ ज्योतिषाचार्य पंडित शंकर दयाल त्रिवेदी ने यह जानकारी देते हुए आज के पंचांग के विषय में मे बताया।

आज का पंचांग

09 अगस्त 2020

विक्रम संवत : 2077

शक संवत :1942

संवत्सर नाम :प्रमादी

वार : रविवार

ऋतु : वर्षा

माह : भाद्रपद

पक्ष : कृष्ण

तिथि : हलषष्ठी ( हर छठ ) ( महलाऐं यह व्रत संतान की सुख समृद्धि और दीर्घायु जीवन के लिए रखती हैं ) प्रातः 05:32

नक्षत्र : रेवती सांय 07:06

योग : घृति प्रातः 06:45

करण : गर सायं 05:31

चंद्रमा: मीन रात्रि 07:06

सूर्योदय : प्रातः 05:32

सूर्यास्त : सायं 06:38

दिशाशूल : पश्चिम

निवारण उपाय : दलिया का सेवन कर घर से निकले

राहु काल :सायं 04:30 से 06:00

गुलिक काल : अपराह्न 03:00 से 04:30

यम गण्ड काल : दोपहर 12:00 से 01:30

आज का राशिफल

मेष राशि : भोले बाबा श्री फटहेश्वर महादेव की शरण में जाऐं सारे कष्टों का निवारण होगा

वृष राशि : शनिदेव की आराधना करें शारीरिक व्याधियों से मुक्ति मिलेगी

मिथुन : श्री गणेशजी को हरी दूब और मोदक अर्पित करें अध्ययन में एकाग्रता आयेगी और प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी

कर्क : चंद्र दर्शन करें और शिव जी को कच्चे दूध का अभिषेक करें शीध्र विवाह होगा

सिंह : प्रातः सूर्य देव को जल का अर्ध्य दें संतान की प्राप्ति अवश्य होगी

कन्या : बुधा देवी के दर्शन 90 दिन लगातार करें आपके सारे अभीष्ट पूर्ण होंगे

तुला: मां संतोषी का 21 शुक्रवार व्रत रखें घर मे धन की बरसात होगी और यश मिलेगा

वृश्चिक : हनुमानजी को चोला चढाऐं और बंदरों को भुने हुए चने ,केला खिलाऐं शत्रुओं का नाश होगा

धनु : गुरु बृहस्पति देव को पीला वस्त्र धारण कराऐं धन संबंधित सभी क्लेश दूर हो जायेंगे

मकर : शनिदेव को कडुवा तेल से अभिषेक करें और नीला फूल अर्पित करें नौकरी शीध्र मिल जायेगी ।

कुम्भ : हनुमान जी को पीला सिंदूर और चमेली के तेल से लेप करें आपके सारे मामले मुकदमे समाप्त हो जायेंगे

मीन : बृहस्पति देव का दर्शन करें और कुंवारी कन्याओं को खीर-पुरी खिलाए, आपकी कन्या का शीध्र विवाह हो जायेगा



Advertisement