यूपी के मेरठ में लॉकडाउन के बीच कबूतरबाजी को लेकर दो पक्षों में ताबड़तोड़ फायरिंग

मेरठ ( latest meerut news ) रविवार को लॉकडाउन के बीच कबूतरबाजी के शौंक ने दो पक्षों के बीच ताबड़तोड़ फायरिंग करवा दी। फायरिंग से इलाका दहल उठा। लोग गोलियों की आवाज सुनकर जान बचाने के लिए इधर-उधर दौड़ते नजर आए। गनीमत रही कि फायरिंग में किसी को गोली नहीं लगी।

यह भी पढ़ें: सावन के आखिरी सोमवार को बन रहा विशेष संयोग

ताबड़तोड़ फायरिंग की आवाजें कोतवाली के भीतर भी सुनी दी। कोतवाली पुलिस फायरिंग की आवाज सुनकर मौके पर पहुंची लेकिन तब तक आरोपी भाग गए थे। मौके पर पुलिस को कई दर्जन खाली खोखे पड़े मिले।
बनियापाड़ा चौकी के पीछे अनस पुत्र शमशाद का मकान है। तीन दिन पहले ही अनस का सारिक नामक युवक से कबूतरबाजी को लेकर विवाद हुआ था। दोनों के बीच जमकर मारपीट भी हुई थी। उस समय तो मामला मोहल्ले के लोगों ने निपटा दिया था लेकिन रविवार की रात सारिक अपने साथियों के साथ असलाह लेकर अनस के घर पर पहुंचा और भीतर पहुंचकर फायरिंग शुरू कर दी।
यह भी पढ़ें: नाेएडा में बाल सुधार गृह के आइसोलेशन वार्ड का दरवाजा तोड़कर तीन बाल अपचारी फरार

इस दौरान अनस के परिजनों ने भी पत्थरबाजी शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि अनस की ओर से फायरिंग शुरू हो गई। पत्थरबाजी की गोलीबारी से क्षेत्र में भगदड़ मच गई। घटना से मोहल्ले में हड़कंप मच गया और गोलियों की आवाज सुनकर लोग जान बचाकर दौड़े। कोतवाली पुलिस को फायरिंग का पता चला तो पुलिस भी घटनास्थल की ओर दौड़ पड़ी। इस दौरान हमलावर बाइक पर फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ की और घटनास्थल पर छानबीन के दौरान .315 बोर के दर्जनों खोखे मौके से बरामद किए।



Advertisement