शहीद का शव पहुंचने से पहले पहुंच गई योगी की आर्थिक मदद

जौनपुर. प्रदेश की योगी सरकार शहीदों के सम्मान में कितनी गम्भीर है इसकी नज़ीर जौनपुर में देखने को मिली। पुलवामा में शहीद हुए जवान जिलाजीत का पार्थिव शरीर उनके इजरी बहादुरपुर स्थित आवास पहुँचने से पहले ही सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता शहीद के परिजन तक पहुंचा दी गई। गुरुवार देर शाम जिले के प्रभारी मंत्री उपेंद्र तिवारी, सांसद बीपी सरोज के साथ-साथ विधायक हरेंद्र सिंह, रमेश मिश्र, जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह और जिला प्रशासन के साथ शहीद जिलाजीत के घर पहुंचे।

प्रभारी मंत्री ने शहीद के परिजन से बात की और उन्हें ढांढस बंधाया। प्रभारी मंत्री ने मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए आर्थिक सहायता के चेक शहीद की पत्नी को दिया। प्रभारी मंत्री ने कहाकि सरकार सदैव शहीद के परिवार के साथ खड़ी है। सरकार की तरफ से 50 लाख रूपये, परिवार के एक सदस्य को नौकरी और गांव के संपर्क मार्ग को शहीद के नाम पर रखने के साथ-साथ शहीद स्मारक भी बनवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि शहीद का शव वाराणसी आ चुका है। शुक्रवार सुबह तक घर आएगा। इसके बाद पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।



Advertisement