Eid-ul-Adha 2020: कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच लोगों घरों में अदा की बकरीद की नमाज

गाजियाबाद. कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने के उद्देश्य से सरकार और जिला प्रशासन की तरफ से ईद-उल-अजहा के दिन तमाम तरह की गाइडलाइन जारी की गई थी। इसका असर गाजियाबाद में उस वक्त देखने को मिला। जब लोगों ने ईद की नमाज अपने घरों पर ही रहकर अदा करते हुए अमन-चैन की दुआ की। साथ ही अपने अन्य साथियों से भी यह अपील की कि इस दौरान सरकार की गाइडलाइन का पूरी तरह सभी लोग पालन करें और साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान रखें यानी कुर्बानी के बाद यह ध्यान रखा जाए कि सड़क या खुले में गंदगी ना फैले।

यह भी पढ़ें- राष्ट्रपति ने बावर्ची के बेटे को ईदी के रूप में दी रेसिंग साइकिल, अब अपने सपनों को साकार कर सकेगा रियाज

वैश्विक महामारी के चलते गाजियाबाद के कैला भट्टा इस्लामनगर डासना मसूरी और अन्य जगह समस्त मुस्लिम समाज के लोगों ने जागरुकता का परिचय देते हुए और सरकार के आदेशों का पालन करते हुए अपने अपने घरों में ही बक़रीद की नमाज अदा की। बता दें कि वैश्विक महामारी के चलते जिला प्रशासन जनपद के समस्त मुस्लिम समाज के लोगों से अपील कर रहा था कि सभी लोग करोना संक्रमण से बचने के लिए ईदगाह व मस्जिदों में न जाकर अपने-अपने घरों में ही ईद की नमाज अदा करें। जिससे कोरोना महामारी की चैन को तोड़ा जा सके। उसी का पालन करते हुए गाजियाबाद में समस्त मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने-अपने घरों में ही ईद की नमाज को अदा की और देश व दुनिया में फैली इस महामारी को खत्म करने के लिए हाथों को उठाकर अपने खुदा से दुआ मांगी।

बता दें कि ईद और लॉकडाउन के चलते शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस घर से बाहर निकले लोगों से घर में रहने की अपील करती नजर आई। हालांकि इस दौरान कहीं से किसी प्रकार की घटना की खबर नहीं है।

यह भी पढ़ें- अयोध्या में भूमिपूजन के अवसर पर हिंदू महासभा मनाएगी होली और दिवाली



Advertisement