रेलवे ने 230 ट्रेनों के अलावा आज से शुरू कीं 80 और गाड़ियां, जानिये किन रूट पर चलेंगी और कैसे मिलेगा इनका रिजर्वेशन

लखनऊ. (Indian Railway Start) वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते थमे हुए रेल के पहिये अब धीरे-धीरे घूमने शुरू हो गई हैं। ट्रेनें बंद होने के बाद आज यानी 12 सितंबर से भारतीय रेलवे 80 नई स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया है। जिसकी बुकिंग बीते 10 सितंबर से ही जारी है। यानी आज से 40 जोड़ी ट्रेनों ने देश के अलग-अलग हिस्सों में पटरियों पर दौड़ना शुरू कर दिया है। आपको बता दें कि इस समय करीब 230 विशेष ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है और आज से शुरू हो रही ये 80 ट्रेनें पहले से ही चल रही 230 ट्रेनों के अतिरिक्त होंगी। राजधानी लखनऊ के उत्तर रेलवे और उत्तर मध्य रेलवे के दोनों स्टेशनों से एक दर्जन के आसपास ट्रेनों का संचालन होगा। जिनमें कई ट्रेनें लखनऊ से शुरू होंगी और कई ट्रेन लखनऊ मंडल से होकर गुजरेगी, लेकिन सफर से पहले लोगों को इन नियमों का पालन करना होगा। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव के मुताबिक वर्तमान में संचालित सभी ट्रेनों की निगरानी कर रेलवे इस बात का पता लगाएगा कि किन ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट ज्यादा लंबी है।

 

 

चलीं 80 और ट्रेनें

दरअसल कोरोना लॉकडाउन के चलते नियमित ट्रेन संचालन बंद करने के बाद रेलवे अब धीरे-धीरे ट्रेनों का संचालन शुरू कर रहा है। इस समय 230 ट्रेनों में 30 राजधानी टाइप और 200 स्पेशल मेल एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही थीं, लेकिन आज से चलने जा रहीं ये 80 ट्रेनें इनके अतिरिक्त होंगी। पैसेंजर्स इन स्पेशल ट्रेनों में रेलवे की आधिकारिक वेबसाइट या फिर इंडिनय रेलवे के ऐप्प (आईआरसीटीसी ) से टिकट बुक करा सकते हैं। ये सभी ट्रेनें पूरी तरह रिजर्व होंगी और इनमें बिना कन्फर्म टिकट के यात्री सफर नहीं कर सकेंगे। ऐसे में यात्रियों को इन ट्रेनों में सफर करने के लिए रिजर्वेशन कराना ही पड़ेगा।

 

 

देखें ट्रेनों की पूरी लिस्ट

 


इन बातों का रखें ध्यान

- यात्रियों के पास कन्फर्म टिकट होने पर ही उन्हें मिलेगी स्टेशन पर प्रवेश की अनुमति
- अपने ई-टिकट की फोटो कापी यात्रा के दौरान रखना होगा साथ
- हर यात्री को मोबाइल में रखना होगा आरोग्य सेतु एप
- यात्रा से पहले एप को करना होगा सक्रिय
- यात्रा के दौरान रेल यात्री को लगाना होगा फेस मास्क
- कम से कम सामान के साथ यात्रा करनी होगी यात्रा
- गाड़ियों के प्रस्थान के समय से कम से कम 90 मिनट पहले पहुंचना होगा स्टेशन
- थर्मल स्क्रींनिंग और दूसरी औपचारिकताओं के बाद ही मिलेगी यात्रा की अनुमति

 



Advertisement