लखनऊ मेट्रो सोमवार सुबह 7 बजे फिर से पटरी पर दौड़ी, गाइडलाइन जानें

लखनऊ. लखनऊ मेट्रो सोमवार सुबह 7 बजे से फिर से पटरी पर दौड़ने लगी है। लखनऊ मेट्रो के संचालन को लेकर मेट्रो स्टेशनों और मेट्रो ट्रेनों के अंदर की व्यवस्था कुछ बदली हुई है। रेडलाइन पर सभी स्टेशनों के दो गेट से ही प्रवेश और निकासी की व्यवस्था की गई है। ट्रेन में एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था है। यात्री का मास्क पहनना अनिवार्य है, मास्क पहनकर नहीं आने पर मेट्रो स्टेशन पर शुल्क देकर यात्री को पहले मास्क खरीदना होगा, फिर उसे एंट्री मिलेगी।

लखनऊ मेट्रो में चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट से मुंशी पुलिया के बीच 21 स्टेशन हैं। इसके बीच 20 ट्रेनों का संचालन होता है। आज से 16 ट्रेनों का संचालन शुरू हो गया। एलएमआरसी के एमडी कुमार केशव ने बताया कि, ट्रेनों सभी 21 स्टेशनों पर रुकेंगी। सुबह छह बजे से रात 10 बजे तक संचालन किया जाएगा। साढ़े पांच मिनट के अंतराल पर ट्रेनें मिलेंगी। टोकन, स्मार्ट कार्ड से यात्री सफर कर सकेंगे। आरोग्य सेतु ऐप, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाएगा। स्मार्ट कार्ड न होने पर टोकन मिलेगा, वह अल्ट्रावायलेट-रे से सैनिटाइज रहेगा।

मेट्रो संचालन के लिए गाइडलाइन :- सीसीटीवी से होगी सोशल डिस्टेंसिंग की मानिटरिंग ।
मुसाफिर की संख्या का निर्धारण एंट्री गेट पर ही होगा।
मेट्रो में ताजी हवा पर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा। तापमान 24 से 30 डिग्री सेल्सियस ही रहेगा।
हर चार घंटे में लिफ्ट के बटन एक्सलेटर सैनिटाइज होगा।
ट्रेन के एक चक्कर पूरा होने के बाद हर बार सैनिटाइजेशन कराया जाएगा।
यात्रियों के लिए कोच में बैठने के लिए मास्क जरूरी।
बैठने के क्रम में एक सीट का गैप रखा जाएगा।
हर स्टेशन पर थर्मल स्कैनिंग के बाद ही यात्रियों को यात्रा की अनुमति मिलेगी।



Advertisement