जमीनी विवाद में ईंटों से कूचकर युवक की हत्या, पत्नी और बेटी घायल, लखनऊ रेफर

सीतापुर. जमीनी विवाद में दबंगों ने ऐसा खूनी खेल खेला हैं कि घटनास्थल और घायलों की शक्ल देखकड आपकी भी रूह कांप जाएगी। जी हां यहां जमीन के एक छोटे से टुकड़े की खातिर एक भाई ने अपने ही चचेरे भाई और उसके परिवार पर ईंट पत्थरों और लाठी डंडो से हमला कर दिया। दबंगों ने अपने चचेरे भाई को ईंट से कूच-कूककर मौत के घाट उतार दिया जबकि इस हमले में मृतक की पत्नी,बेटी और उसका 20 दिन का मासूम भी घायल हो गया। पत्नी की हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने उसे प्राथमिक उपचार देकर लखनऊ रेफर कर दिया हैं। पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लेकर एक मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया हैं जबकि उसके दो बेटों की तलाश के लिए पुलिस टीम दबिश दे रही है। पुलिस घटना के पीछे जमीनी विवाद बता रही हैं।

मकोट थाना क्षेत्र की वारदात

वारदात रामकोट थाना क्षेत्र की है। यहां के ग्राम निबहरी निवासी आनंद और उसके चचेरे भाई कृष्णा यादव के बीच पैतृक जमीन को लेकर पिछले 2 सालों से विवाद चल रहा था। परिजनों के मुताबिक आज देर शाम पेशे से वकील आनंद यादव अपने दो बेटों के साथ आये और चचेरे भाई कृष्णा यादव पर हमलावर हो गए और उसे बचाने दौड़े परिवार पर भी दबंगों ने लाठी डंडों से प्रहार कर उन्हें लहूलुहान कर दिया। दबंगों का खूनी खेल यहीं नही रुका और उन्होंने अपने चचेरे भाई की ईंटों से कूच कूचकर मौत के घाट उतार दिया और मौके से फरार हो गए। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया। पत्नी की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद लखनऊ रेफर कर दिया हैं। पुलिस का कहना हैं कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले में परिजनों की तहरीर के आधार पर केस दर्ज किया जा रहा हैं। एडिश्नल एसपी नरेंद्र प्रताप सिंह का कहना हैं कि मुख्य आरोपी वकील आनंद को गिरफ्तार कर लिया गया हैं जबकि उनके दोनों बेटों की तलाश की जा रही हैं। पुलिस का कहना हैं कि जमीन के विवाद के चलते यह वारदात अंजाम दी गयी है और पुलिस इस मामले कि हर पहलू से जांच पड़ताल कर रही है जो भी तथ्य सामने निकलकर आएंगे उनके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।



Advertisement