टमाटर जाइए भूल,सेब से सेहत बनाइए हुजूर

मेरठ। टमाटर के दाम अब सब्जी मंडी में 80 से 85 रुपये प्रति किलाग्राम तक पहुंच गया है। मेरठ में टमाटर की सप्लाई कम होने की वजह से कीमतों में इतनी बड़ी उछाल देखने को मिल रही है। हालात यह है कि टमाटर सेब से अधिक महंगा हो गया है। सेब इस समय बाजार में 60—70 रूपये किलो बिक रहा है तो टमाटर 85—85 रूपये किलो है। सब्जी मंडी के व्यापारियों का कहना है कि टमाटर उत्पादक क्षेत्रों से आवक कम हुई है। जून के बाद से टमाटर की मामूली तेजी ही रही है। बीते कुछ सप्ताह में यह भाव 50 से 65 रुपये प्रति किलो के बीच था। लेकिन प्रमुख उत्पादक राज्यों में नई फसल के बीच आवक कम हुई है। हालात यह है कि जो लोग 20 किलो टमाटर खरीदते थे आज वो 250 ग्राम टमाटर खरीदकर ही काम चला रहे हैं।

शनिवार को सब्जी मंडी में टमाटर 80-85 रुपये प्रति किलो तक बिके। हालांकि, क्वॉलिटी और एरिया के आधार पर कीमतों में थोड़ा अंतर है। लेकिन, सरकारी आंकड़ों से पता चलता है कि मेरठ में टमाटर की कीमतें 60 रुपये प्रति किलोग्राम पर है।
आवक कम होने से कीमतों में तेजी :—
मंडी के आढती दिलावर सिंह ने बताया कि सब्जी मंडी में शनिवार को टमाटर का भाव 60 से 70 रुपये प्रति किलोग्राम रहा। टमाटर उत्पाक क्षेत्रों में नई फसलों की आवक कम हुई है, जिसकी वजह से टमाटर की कीमतों में तेजी देखने को मिली।'

लॉकडाउन में 20 रुपये तक बिके थे टमाटर :—
कोरोना वायरस महामारी के चलते दक्षिण भारत और महाराष्ट्र में इस बार कम मात्रा में टमाटर की खेती हुई है। जिसकी वजह से भी कीमतें बढ़ने के आसार है। जानकारों ने बताया कि कोविड-19 लॉकडाउन में किसानों को 5—10 रुपये प्रति किलोग्राम तक बेचना पड़ा था। इसके अलावा फसलों पर बारिश का भी असर पड़ा है। इन सभी वजहों से पश्चिम उप्र समेत एनसीआर में नई फसलों का आवक कम हुआ है।



Advertisement