युवती से छेडछाड़ के आरोपियों को पंचायत ने सुनाई थप्पड़ मारने की सजा, जानिये पूरा मामला

मुजफ्फरनगर। जनपद में पंचायत का एक और नया कारनामा सामने आया है। जिसमें युवती से छेड़खानी करने के आरोपियों को पंचायत में बुलवाकर उन्हें थप्पड़ मारने की सजा सुनाई गई। उसके बाद पीड़ित और आरोपी पक्ष में समझौता करा दिया गया। इस मामले में पीड़ित पक्ष की ओर से थाने में लिखित में कोई शिकायत नहीं की गई। इसलिए मामला बाहर से ही रफा-दफा कर दिया गया।

दरअसल, मामला थाना भोपा क्षेत्र का है। जहां गांव मोरना निवासी एक युवती खेत से चारा लेकर वापस आ रही थी।तभी रास्ते में बैठे गांव के ही 3 युवकों ने युवती से छेड़खानी कर दी। जिसके बाद युवती छेड़खानी का विरोध करते हुए शोर मचा दिया और मौके पर मौजूद लोगों ने पीछा करते हुए एक आरोपी युवक को मौके पर ही दबोच लिया। जबकि दो आरोपी मौके से फरार हो गए।

सूत्रों की मानें तो इस घटना के बाद पीड़ित पक्ष ग्राम प्रधान भेड़ा हेडी संजीव यादव के पास पहुंचा तो आरोपी पक्ष के लोग मोरना के प्रधान पति शहजाद के पास पहुंच गए। जिसके बाद ग्राम प्रधान भेड़ा हेडी के आवास पर दोनों पक्षों के लोगों को बुलवाकर पंचायत की गई। सूत्रों का कहना है कि इस पंचायत में गुस्से से लाल पीले लोगों ने युवती से छेड़खानी करने के आरोपियों को थप्पड़ मारने की सजा सुनाई और दोनों पक्षों का लिखित में समझौता करा कर वापस घर भेज दिया।

हालांकि इस मामले में आरोपियों को पंचायत में थप्पड़ मारने की बात को ग्राम प्रधान भेड़ा हेडी संजीव यादव इंकार कर रहे हैं। वहीं इस मामले में जब सीओ भोपा सोमेंद्र कुमार नेगी से बातचीत की गई तो उन्होंने भी घटना के बारे में जानकारी होने की बात कही। लेकिन थप्पड़ मारने की बात की जानकारी न होने की बात कही। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों ने लिखित समझौता देकर किसी तरह की कार्रवाई न होने की बात कही है।



Advertisement