भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने की सहायक नगर आयुक्त से हाथापाई, निगम कर्मियों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

मेरठ. भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने साेमवार को सरेराह गुंडागर्दी की। कार्यकर्ताओं ने सहायक नगर आयुक्त से हाथापाई की और उनको कार्यालय में ही बंधक बना लिया। भाजपाइयों की इस गुडांगर्दी के विरोध में निगम कर्मचारी लामबंद हो गए और उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया, जिसके बाद निगम कर्मचारियों और भाजयुमो कार्यकर्ताओं के बीच भी हाथापाई हुई। निगम कर्मचारियों ने भाजयुमो कार्यकर्ताओं को निगम से खदेड़ दिया। मामला थाना देहली गेट पहुंचा तो दोनों पक्षों ने थाने में हंगामा किया।

यह भी पढ़ें- डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या करने वाले कुख्यात सुनील राठी की सवा करोड़ की संपत्ति कुर्क

दरअसल, भाजयुमो कार्यकर्ता सोमवार को गोवंश के एक मामले में सहायक नगर आयुक्त के कार्यालय पहुंचे थे। भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने सहायक नगर आयुक्त से अभद्रता की और उनके ऊपर गोवंश मामले को लेकर दबाव बनाने लगे, जिस पर सहायक नगर आयुक्त और भाजयुमो कार्यकर्ताओं में धक्का-मुक्की हो गई। भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुए सहायक नगर आयुक्त को उनके आफिस में ही बंधक बना लिया। इसकी जानकारी जैसे ही निगम कर्मचारियों को हुई। वे नगर आयुक्त आफिस की ओर दौड़ पड़े।

इस दौरान निगम कर्मचारियों और भाजयुमो कार्यकर्ताओं के बीच जमकर मारपीट हुई। निगम कर्मचारी संख्या में अधिक होने के कारण भाजयुमो कार्यकर्ताओं पर भारी पड़ गए। इसी बीच कर्मियों ने भाजयुमो कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया। भाजयुमो कार्यकर्ता निगम से सीधे थाना देहली गेट पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया। पीछे से निगम कर्मचारी भी पहुंच गए। दोनों ओर से आरोप-प्रत्यारोप लगाए जाते रहे। दोनों ओर के लोग थाने में डटे थे और एक-दूसरे के खिलाफ रिपोर्ट लिखवाने के लिए पुलिस पर दबाव बना रहे थे। वहीं, पुलिस मामले में समझौता कराने का प्रयास करती नजर आई।

यह भी पढ़ें- पश्चिम के कुख्यातों पर पुलिस ने कसा शिकंजा, करोड़ों की संपत्तियां कुर्क



Advertisement