केबल कनेक्शन कटा तो इस पूर्व कांग्रेस विधायक के बेटे ने खुद को मार ली गोली, मौके पर मौत, मचा हड़कंप

बाराबंकी. जिले में कांग्रेस के एक पूर्व विधायक पुत्र संजय ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से गुरुवार को कनपटी पर गोली मारकर जान दे दी। यह घटना उनके आवास पर हुई। परिजनों का कहना है कि वह अवसाद से ग्रसित थे। पुलिस ने घटना स्थल का जायजा लेकर शव को पीएम के लिए भेजा है। घटना के समय उनकी पत्नी और पुत्र घर में ही थे। परिजनों ने बताया कि संजय ने दोपहर में टैलीविजन ऑन किया। कोई चैनल न आने पर उन्होंने केबल ऑपरेटर से बात की तो पता लगा कि उनका केबल कटा हुआ है। इससे वह नाराज हो गए और फोन पर ही केबल ऑपरेटर से उनका विवाद भी हुआ। इससे वह काफी नाराज थे। इसी बीच पत्नी ने उन्हें तबीयत खराब होने का हवाला देकर चिल्लाने से मना किया जिसके बाद उन्होंने गुस्से में खुद को गोली मार ली।

खुद को गोली मारकर दी जान

वारदात कोतवाली नगर के मुहल्ला मुंशीगंज मोहल्ले से जुड़ी है। यहां रामनगर विधानसभा से कांग्रेस के विधायक रह चुके स्व. पंडित तेज नारायण शुक्ला के पुत्र शेष नारायण शुक्ला उर्फ संजय ने अपने कमरे में लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार ली। मूलरूप से ग्राम दनापुर शुक्ल थाना रामनगर निवासी संजय के पिता स्व. शेषनारायण शुक्ला वर्ष 1969 से 1974 तक विधायक रहे। घटना के समय घर पर उनकी पत्नी सुमन शुक्ला और बेटे अनमोल शुक्ला भी थे। परिजनों का कहना है कि संजय काफी दिनों से अवसाद से ग्रसित थे। अक्सर उत्तेजित होकर घर की चीजों को तोड़ने लगते थे और पिस्टल निकाल लेते थे। केबल कनेक्शन कटने को लेकर केबल कर्मचारी से उनकी कहासुनी हुई थी। इस दौरान उनकी पत्नी और पुत्र ने उन्हें रोका था और पत्नी से भी उनकी कहासुनी हुई थी। इसके बाद वह मौके पर शांत हो गए, लेकिन अपने कमरे में गए शेष नारायण ने अलमारी में रखी लाेड पिस्टल निकाली और पलंग पर बैठकर कनपटी पर गोली मार ली, जिससे उनकी मौके पर मौत हो गई।

संपत्ति का भी था कुछ विवाद

वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल का जायजा लिया और शव को पीएम के लिए भेजकर पिस्टल को कब्जे में ले लिया। एएसपी आरएस गौतम ने बताया कि पूर्व विधायक के पुत्र संजय का अपने दो भाइयों डॉ. शैंलेंद्र शुक्ल और सुरेंद्र शुक्ल से संपत्ति को लेकर भी कुछ विवाद चल रहा था। इस बारे में संजय की पत्नी से पुलिस ने बात की तो पता लगा कि परिवारिक विवाद के चलते संजय अक्सर परेशान रहते थे। इनकी भी जांच की जा रही है।



Advertisement