एआरएम पर अभद्रता का आरोप लगाकर बसों का हुआ चक्का-जाम, आश्वासन के बाद माने चालक

सीतापुर. एआरएम द्वारा किये गए दुर्व्यवहार और डग्गामार वाहनों के संचालन के विरोध में चालक-परिचलको ने हड़ताल कर दी। हड़ताल के कारण यात्रियों को काफी देर तक परेशान होना पड़ा। बाद में अधिकारियों के आश्वासन पर इन लोगो ने अपनी हड़ताल खत्म कर दी जिसके बाद बसों का संचालन शुरू हो गया।

ड्राइवरों ने लगाया आरोप

सीतापुर डिपो में कार्यरत चालक-परिचलको का कहना है कि अधिकारियों द्वारा उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। एक ओर लोड फैक्टर का बोझ डाला जा रहा है। वहीं दूसरी ओर उनके साथ किलोमीटर पूरा करने की शर्त रखी जा रही है। कोरोना के कारण इन दिनों यात्रियों की संख्या पर प्रभाव पड़ा है लेकिन उसके बावजूद चालक- परिचालक कड़ी मेहनत करके सवारियों की संख्या पूरी करते हैं बावजूद इसके एआरएम द्वारा उनके साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है। परिचालको का यह भी आरोप है कि विभिन्न मार्गों पर डग्गामार वाहनों का संचालन धड़ल्ले से किया जा रहा है जिसके कारण भी रोडवेज की आय पर असर पड़ रहा है। एआरएम विमल राजन का कहना है कि परिचालको को रोडवेज की आय बढाने पर जोर दिया गया है साथ ही उनसे विभिन्न मार्गों पर पड़ने वाले छोटे स्टेशनों की सवारियों को बैठाने के लिए निर्देशित किया गया है लेकिन परिचालक ऐसा नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि डग्गामार वाहनों के संचालन को रोकने के लिए प्रशासन के साथ वार्ता कर रणनीति तय की जाएगी।



Advertisement