दो पूर्व मंत्री और एक एमएलसी का कोराना वायरस से निधन, सीएम योगी ने जताया शोक

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर और तेज होता जा रहा है। यूपी के दो कैबिनेट मंत्री और एक आईएएस अफसर को अपनी चपेट में ले चुका है। सोमवार देर रात बांदा निवासी पूर्व मंत्री जमुना प्रसाद बोस, बसपा सरकार में राज्यमंत्री रहे अजय भारती और समाजवादी पार्टी एमएलसी एसआरएस यादव का कोरोना संक्रमण से लखनऊ में निधन हो गया। उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इनके निधन पर गहरा शोक जताया है। वहीं कैबिनेट मंत्री सतीश महाना की हालत भी गंभीर बनी हुई है। राजधानी लखनऊ में बीते 24 घंटे में कोरोना से 16 मौतें हुई हैं। इनमें कोरोना वायरस से लखनऊ के छह व्यक्तियों का निधन हो गया। और बाकी अन्य जिलों के रहने वाले थे। अजय भारती बाद में बसपा को छोड़ भाजपा में शामिल हो गए थे।

दो पूर्व मंत्री और एक एमएलसी का कोराना वायरस से निधन, सीएम योगी ने जताया शोक

कोरोना से हार गए जमुना प्रसाद बोस :- जमुना प्रसाद बोस (95 वर्ष) बांदा के समाजवादी नेता व यूपी सरकार में मंत्री रह चुके हैं। पांच दिन पहले डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ में जांच में कोरोना की पुष्टि होने के बाद उन्हें संस्थान के कोविड अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। सोमवार की शाम साढ़े सात बजे उनका निधन हो गया। बोस अपने पीछे दो पुत्र, पुत्री सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गए। मंगलवार सुबह 11 बजे जमुना प्रसाद बोस के पार्थिव शरीर लखनऊ के बैकुंठ धाम में राजकीय सम्मान के साथ विद्युत शवदाह गृह में अंतिम संस्कार किया जाएगा। 25 अक्टूबर 1925 को बांदा में जन्मे जमुना प्रसाद बोस ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद फौज में शामिल होने के बाद वह बुंदेलखंड में नेताजी के अति विश्वसनीय फौजी भी थे। नेताजी से नजदीकियों की वजह से लोगों ने उन्हें 'बोस' के नाम से संबोधित करने लगे थे।

पूर्व राज्यमंत्री अजय भारती का कोरोना से निधन :- बसपा सरकार में राज्यमंत्री रहे कोरोना संक्रमित अजय भारती ने सोमवार देर शाम कानपुर के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली। अजय भारती ने बसपा को टाटा कर बाद में भाजपा में शामिल हो गए थे। वर्तमान में भाजपा अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के कानपुर मंडल अध्यक्ष थे। तीन दिन पहले उन्हें बुखार आया था तो वह कानपुर चले गए। वहां जांच में उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अजय भारती की छवि जनपद के एक ईमानदार राजनेता के रूप में थी।

दो पूर्व मंत्री और एक एमएलसी का कोराना वायरस से निधन, सीएम योगी ने जताया शोक

एसआरएस यादव का निधन :- एसआरएस यादव कोरोना संक्रमित होने के बाद पीजीआई के कोविड वार्ड में भर्ती हुए थे। उन्होंने सोमवार की देर रात आखिरी सांस ली। एसआरएस यादव सपा के वरिष्ठ सलाहकारों में शुमार थे। मुलायम सिंह यादव जब वर्ष 1989 में पहली बार मुख्यमंत्री बने तो एसआरएस को अपना विशेष कार्याधिकारी यानी ओएसडी बनाया था। राजनीति में आने से पहले कोऑपरेटिव बैंक में नौकरी करते थे। मुलायम सिंह यादव के साथ ही सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के सबसे करीबी लोगों में शामिल थे। समाजवादी पार्टी के कार्यालय की कमान एसआरएस यादव ही संभालते थे। मुलायम सिंह यादव के साथ अखिलेश यादव तथा पार्टी के अन्य नेताओं ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

दो पूर्व मंत्री और एक एमएलसी का कोराना वायरस से निधन, सीएम योगी ने जताया शोक

मुख्यमंत्री योगी दुखी :- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व मंत्री जमुना प्रसाद बोस के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। आज यहां जारी एक शोक सन्देश में मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जमुना प्रसाद बोस ने सार्वजनिक जीवन में कर्मठता, ईमानदारी और सादगी का उदाहरण प्रस्तुत किया। वे स्वतंत्रता सेनानी भी रहे और उन्होंने हमेशा लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए संघर्ष किया। मुख्यमंत्री योगी ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि जमुना प्रसाद का जाना एक अपूर्णनीय क्षति है। सादगी भरा उनका जीवन सदैव प्रेरणा देता रहेगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने शोक व्यक्त किया है।

कैबिनेट मंत्री सतीश महाना की हालत गंभीर :- योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री सतीश महाना को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। मंत्री 29 अगस्त को कोरोना पॉजिटिव आए थे, उन्होंने इसकी ट्वीट कर खुद जानकारी दी थी।



Advertisement