दलित किशोरी से गैंगरेप, बेहोशी की हालत में स्टेशन के बाहर मिली

प्रयागराज. यूपी के प्रयागराज में एक दलित किशोरी के साथ पांच युवकों द्वारा बंधक बनाकर कई दिनों तक रेप किये जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित किशोरी बेहोशी की हालत में प्रयागराज के छिवकी स्टेशन के बाहर मिली। सीओ के संज्ञान लेेने के बाद सोमवार की देर रात औद्योगिक थानाक्षेत्र की पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिये।

 

प्रयागराज के घूरपुर थानाक्षेत्र के गांव की दलित किशोरी बीते 20 सितंबर को अपने दो छोटे भाइयों को छिवकी स्टेशन के नजदीक रहने वाले अपने मामा के घर छोड़ने आई थी। आरोप है कि जब वहां से वह साइकिल से वापस जा रही थी तो उसी दौरान तेंदुआवन गांव के पास पांच लोग उसे जबरन बाइक पर उठा ले गए। लड़की का दावाव है कि उसे एक कमरे में बंधक बनाकर पांचों युवकों ने उसके साथ गैंगरेप किया। इसके बाद आरोपी किशोरी को रविवार को छिवकी जंक्शन के बाहर बेहोशी की हालत में फेककर चले गए। होश में आने के बाद वह अपने मामा के घर गई और अपने साथ घटी पूरी घटना की जानकारी दी।

 

सूचना पाकर मौके पर पहुंची औद्योगिक पुलिस और नैनी पुलिस इस बात को तय करने में उलझे रहे कि मामला किसकी सीमा में आता है। हालांकि सीओ ने मामले को संज्ञान में लिया और उन्होंने औद्योगिक थाने की पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। सीओ करछना आईपीएस सोमेन्द्र मीणा ने मीडिया को बताया कि औद्योगिक पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के लिये आदेशित किया गया है। हालांकि पलिस मामले को प्रेम प्रपंच से जोड़कर भी देख रही है।



Advertisement