यूपी में एक थाने की कथित पुलिस वसूली लिस्ट वायरल, हर नाम के आगे लिखी है रकम, एसपी ने दिये जांच के आदेश

चंदौली. यूपी के चंदौली जिले की मुगलसराय कोतवाली की एक कथित वसूली लिस्ट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। लिस्ट के मुताबिक हर महीने थाने की कमाई 35 लाख 64 हजार रुपये हैं। इस लिस्ट को आईजी नागरिक सुरक्षा अमिताभ ठाकुर ने यूपी पुलिस को ट्वीट किया। चंदौली पुलिस के अलावा आईजी रेंज वाराणसी, एडीजी जोन वाराणसी और यूपी पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर भी इसे टैग किया, जिसके बाद यूपी पुलिस के आधिकारिक टि्वटर हैंडल से मामले की जांच के आदेश दिये गए हैं। वायरल लिस्ट में अवैध शराब काारोबारियों से लेकर कसाइयों तक हर एक के नाम के साथ उनसे की वसूली की रकम दर्ज है। लिस्ट के वायरल होने के बाद हड़कम्प मच गया है। चंदौली पुलिस को इसकी जांच कर आवश्यक कार्रवाई का निर्देश मिला है।

 

Police Recovery List Mughal Sarai

 

अमिताभ ठाकुर ने अपने इसे ट्वीट करते हुए लिखा है...

यह PS कोतवाली मुगलसराय @chandaulipolice की वसूली लिस्ट बताई गयी है. लिस्ट से टोटल प्रति माह 35.64 लाख+अवैध खनन 12500/वाहन+पडवा कट्टा 4000/वाहन (गांजा से 25 लाख सहित) हुआ. कई नाम व डिटेल्ड फैक्ट्स अंकित. गहन जाँच जरुरी. कृ तत्काल देखें...

 

दरअसल सबसे पहले मुगलसराय शहर की एक महिला ने फेसबुक और सोशल मीडिया पर मुगलसराय कोतवाली पुलिस के खिलाफ कथित वसूली की लिस्ट पोस्ट की थी। इसके बाद इस लिस्ट को आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने ट्वीट कर जांच कराए जाने की मांग की। यूपी पुलिस के निर्देश के बाद चंदौली के एसपी हेमंत कुटियाल ने एएसपी को जांच का निर्देश दे दिया है। उधर स्थानीय मीडिया को दिये बयान में मुगलसराय कोतवाल शिवानंद मिश्रा ने वसूली लिस्ट को पूरी तरह से गलत और निराधार बताया है। एसपी हेमंत कुटियाल का भी मीडिया में बयान आया है। उन्होंने कहा है कि सोशल मीडिया में पोस्ट वायरल होने की सूचना मिली है। मामले की जांच एएसपी प्रेमचंद को सौंपकर जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है। एडीजी जोन ने एसपी से मामले की जांच रिपोर्ट मांगी है।



Advertisement