जानकारी के आभाव में पुलिस कैसे करेगी जनता की सुरक्षा, रियलिटी चेक में हुआ खुलासा

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा है कि उनकी पुलिस भी हाईटेक हो, वह भी डिजिटल इण्डिया का हिस्सा बने और तकनीक के सहारे अपराध एवं अपराधियों पर लगाम कसे। मगर जिस तकनीक को हथियार बना कर सरकार पुलिस को हाईटेक बना रही है। उसकी जानकारी उन्हें है ही नही। इसका रियलिटी चेक किया गया तो योगी की हाईटेक पुलिस की पोल खुल गयी।

 

 

रियलिटी चेक में हुआ खुलासा

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ने अपने सभी पुलिसकर्मियों को अपराध पर अंकुश लगाने के लिए प्रहरी ऐप को अपने मोबाइल फोन पर डाउनलोड करने का फरमान सुनाया है। ताकि अपराध और अपराधियों पर नजर रखी जा सके। पुलिस महानिदेशक ने जिस ऐप को डाउनलोड करने का आदेश दिया है, उसके बारे में खुद पुलिसकर्मी कितना जानते है इसकी सच्चाई जानने हम बाराबंकी की सड़कों पर निकले तो हकीकत सामने आ गयी। ऐप के बारे में जानकारी, हलका और बीट के बारे में जानकारी और अपराधियों के बारे में जानकारी के सिर्फ बहाने ही सुनने को मिले। एक पुलिस चौकी पर डायल 100 पर चलने वाला सिपाही इतना मुस्तैद दिखा कि कूलर चला कर ठण्डी हवा में आराम से सोता दिखाई दिया।

 

 

दिखा ये नजारा

सबसे पहले रात के 1 बजे नगर कोतवाली की बड़ेल चौकी पहुंचे तो चौकी के अंदर एक दम शांति दिखी और कोई पुलिसकर्मी यहां ड्यूटी देता दिखाई नही दिया। हां चलते हुए कूलर की आवाज सुनकर जब हम अंदर गए तो देखा कि डायल 100 पर गश्त करने वाला सिपाही अंदर ठण्डी हवा में आराम फरमा रहा है। यहां हमें पूछने वाला कोई भी नहीं था। रात के डेढ़ बजे हम रामनगर बाईपास पर पहुंचे तो यहां दो सिपाही मुस्तैद दिखाई दिए। उनसे जब ऐप के बारे में पूछा गया तो कोई सन्तोष जनक जवाब न देकर कहा कि अभी डाउनलोड किया है। मगर इसकी जानकारी नहीं है। ऐसा ही उत्तर हलका, बीट और अपराधियों के सवाल पर भी मिला।

 

 

यहां भी वही हाल

रात के जब दो बज रहे थे तो हम देवा कोतवाली पहुंचे। यह थाना इस लिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यहां विश्वप्रसिद्ध हाजी वारिश अली शाह की दरगाह है और यहां देश विदेश से लोग दर्शन के लिए आते हैं। यहां भी हमें कुछ पुलिस वाले ड्यूटी देते दिखे। जब हमने इनसे बात कि तो सवाल के जवाब में बहाने ही सुनने को मिले। ऐसे में सवाल खड़ा होता है कि जब पुलिस को हो पता नही कि उन्हें जनता की सुरक्षा कैसे करनी है तो वह आम जन की सुरक्षा कैसे करेंगे।

 



Advertisement