कार पर लाल रंग डाल बताते थे खून, फिर पलभर में गायब कर देते थे मोबाइल और कीमती सामान

मेरठ। पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो पहले कार पर लाल रंग डालता था और उसके बाद कार चालक को बातों में लगाकर मोबाइल और कीमती समान पल में गायब कर देता था। पुलिस के हत्थे चढे इस ठक—ठक गिरोह से दो लाख के मोबाइल और कीमती सामान बरामद हुआ है। पुलिस ने गैंग के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

दरअसल ब्रहमपुरी पुलिस ने चेकिंग के दौरान गौरीपुरा चौकी के सामने ब्रहमपुरी चौपला से ठक-ठक गिरोह के नाम से कुख्यात कारो से मोबाईल फोन तथा पर्स चोरी करने वाले अपराधियो के गैंग के पाँच सदस्यों को एक फर्जी नम्बर प्लेट लगी वैगनार कार सहित गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से चोरी के 15 मोबाईल फोन करीब 2 लाख रूपये कीमत के बरामद किये हैं। गिरफ्तार अभियुक्तगण में शाहनवाज पुत्र सरवर निवासी मकबरा डिग्गी चौक अल्ताफ थाना रेलवे रोड,शकील पुत्र सलीम निवासी जली कोठी पुर्वा अहमदनगर थाना देहलीगेट,शुएब पुत्र अशफाक निवासी खैरनगर कुरैशियान थाना देहलीगेट,आसिम पुत्र यामीन निवासी गली न0 7 पुर्वा फैयाज अली थाना देहलीगेट,अलीम पुत्र नूर मौहम्मद निवासी गली न0 7 पुर्वा फैयाज अली थाना देहलीगेट हैं।

पकड़े गए अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि वे एक गिरोह के सदस्य है। जो साथ मे मिलकर कार से दिल्ली,गाजियाबाद, नोयडा आदि से मोबाईल फोन तथा पर्स आदि की चोरी करते हैं। ये लोग रोड पर साईड में लगी कार में बैठे किसी व्यक्ति को अपना निशाना बनाते थे। गिरोह का एक आदमी चुपके से जाकर कार के ऊपर लाल रंग डाल देता है। दूसरा आदमी कारसवार से खिड़की खटखटाकर खुलवाता था और बताता था कि उसकी कार पर खून लगा है। कार सवार घबराकर नीचे उतरकर रंग को देखता था तभी एक आदमी दूसरी तरफ कार में रखे मोबाईल, पर्स आदि चोरी कर लेता था। इसके बाद जब तक व्यक्ति को चोरी का पता चलता था वो लोग वहां से निकल जाते थे। पुलिस ने गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।



Advertisement