पानी की टंकी को घेरकर खड़े रहे पुलिस और अधिकारी, इंतजार करते करते हो गए परेशान, जानिये पूरा मामला

मेरठ। जाग्रति विहार सैक्टर सात में गुरूवार की रात्रि उस समय अफरातफरी मच गई जब तीन संदिग्ध लोग इलाकें में पानी सप्लाई करने वाली टंकी पर चढ़ गए। लोगों ने निगम पार्षद को मामले की जानकारी दी जिसके बाद मौके पर जल निगम व थाना मेडिकल पुलिस पहुंची। काफी इंतज़ार करने पर भी टंकी से उतरकर कोई नहीं आया। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने राहत की सांस ली।

गत रात्रि करीब सवा नौ बजे जाग्रति विहार के सैक्टर सात स्थित पानी की टंकी पर कुछ संदिग्ध लोगों के चढ़ने की चर्चा इलाके में फैली। जिसके बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया साथ ही स्थानिय लोग टंकी के आसपास जमा हो गए। ग्यारह बजे से मध्यरात्रि तक स्थानीय लोग व पुलिस तथा जल निगम के लोग टंकी पर डंटे रहे।

मौके पर स्थानिय पार्षद समीर सिंह भी पहुंचे थे। जिनके द्वारा जानकारी करने पर पता चला कि तीन सदिग्धों को टंकी पर चढ़ते देखा गया है। पार्षद ने थाना मेडिकल पुलिस व जल निगम के अधिकारियों को फोन पर सूचना दी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने टंकी को चारों ओर से घेर लिया। इसी बीच जल निगम के अधिकारी भी मौके पर जा पहुंचे और इलाके मे टंकी से होने वाली पानी की सप्लाई को बंद करा दिया। लोगों में इस बात को लेकर दहशत थी कि न जाने कौन लोग हैं जो इस तरह रात के अंधेरे में टंकी पर चढ़ गए। आशंका इस बात की थी कि कहीं इन लोगों द्वारा टंकी के पानी में तो कुछ नही मिला दिया गया। इसी बात को ध्यान में रखते हुए जल निगम के अधिकारियों ने टंकी से पानी की सप्लाई रात को ही बंद करा दी।

वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने भी टंकी को चारों ओर से घेर लिया। काफी देर तक इंतज़ार करने के बाद भी टंकी से कोई उतरकर नहीं आया। सारी रात पुलिस व जल निगम के लोग टंकी को घेरे खड़े रहे।

जब इस बारे जल निगम के एई अशोक से बात की गई तो उन्होंने बताया कि रात के समय एक सूचना मिली थी कि टंकी पर कुछ संदिग्ध लोग चढ़े हैं। विभाग के लोग मौके पर पहुंचे, देर रात तक भी उनके उतरने का इंतज़ार किया गया लेकिन कोई नीचे नहीं उतरा। यह महज एक अफवाह थी और अब पानी की सप्लाई सुचारू रूप से चालू कर दी गई है। ऐसी कोई बात नही है।



Advertisement