हनीट्रैप गिरोह में शामिल फर्जी दरोगा और महिला सिपाही गिरफ्तार, रईसजादों को बनाते थे शिकार

गाजियाबाद. थाना सिहानी गेट पुलिस ने हाईराइज सोसायटी में चल रहे हैनीट्रैप गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस एक फर्जी दरोगा और महिला सिपाही को भी दबोचा है। बताया जा रहा है कि गैंग में शामिल महिलाएं सोशल मीडिया के सहारे रईसजादों से दोस्ती कर उन्हें फ्लैट पर बुलाती और उनकी अश्लील वीडियो बनाती थीं। इसके बाद फर्जी पुलिसकर्मी उन्हें झूठे केस में फंसाने की धमकी देते हुए उन्हें ब्लैकमेल करते थे। पुलिस के अनुसार, इस गैंग का सरगना देवराज पांडा उर्फ शाहनवाज समेत पांच आरोपी फरार हो गए हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है।

यह भी पढ़ें- यूपी के सहारनपुर में 7 साल के मासूम की अपहरण के बाद हत्या, शव गंदे नाले में फेंका, सामने आई चाैंकाने वाल वजह

एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने बताया कि पिछले काफी समय से दिल्ली एनसीआर में यह गैंग बेहद सक्रिय था। उन्होंने बताया कि जालसाज जावेद निवासी मुस्तफाबाद दिल्ली, मधुमिता उर्फ जोया पत्नी साजिद उर्फ आकाश राणा को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि पूजा व स्मृति नाम की लड़कियों के नाम से फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट हाई प्रोफाइल लोगों को भेजा करते थे। फेसबुक मैसेंजर पर चैटिंग करने के बाद फोन नंबर लेकर उनसे बातें करते थे। फिर उन्हें फ्लैटों पर बुलाकर अश्लील वीडियो बनाते थे। इसके बाद जावेद पुलिस की वर्दी पहनकर वहां आता था। वह उस वक्त जो भी कस्टमर मिलता था उसको ब्लैकमेल करता था।

यह गिरोह एनसीआर क्षेत्र में न जाने कितने लोगों को अपना निशाना बना चुका है। मामले का खुलासा तब हुआ जब दिल्ली निवासी एक व्यक्ति ने इन लोगों की शिकायत सिहानी गेट थाने में की। उन्होंने बताया कि दोनों अभियुक्तों को कोर्ट के समक्ष पेश करने के लिए भेज दिया गया है। अभी इनके अन्य साथियों की तलाश की जा रही है, जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- गजब : चाचा को सर्राफ की दुकान पर गिरवी रख उड़ा ले गए लाखों के जेवर



Advertisement