वर्दीधारी बनकर युवती के साथ किया दुष्कर्म, पुलिस ने किया गिरफ्तार

अयोध्या : अपराधिक तत्वों को लेकर अयोध्या पुलिस द्वारा चलाए जा रहे अभियान के बीच एक कथित वर्दीधारी दरोगा के सामने आते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। यह वर्दीधारी दरोगा लोगो को नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करता था। यब मामला उस समय खुलासा हुआ जब एक युवती को नौकरी दिलाने के नाम पर शारीरिक शोषण करने का मामला सामने आया।

दरसल अयोध्या के एक ब्यूटी पार्लर चलाने वाली युवती की जान पहचान इनायत नगर के रनवा में रहने वाले अरविंद गौतम से हुई. अरविंद ने युवती को खुद को दारोगा बताया . इतना ही नहीं, इस जालसाज युवक ने दारोगा की वर्दी में ही युवती से मुलाकात की, जिसके कारण यह युवती उसके झांसे में आ गई. इसके बाद अरविंद गौतम ने युवती को पुलिस विभाग में नौकरी दिलाने का भरोसा दिलाया. जालसाजी का यह खेल आगे बढ़ता रहा और इस फर्जी दारोगा अरविंद गौतम ने युवती का शहर के एक प्राइवेट लैब से मेडिकल भी कराया और रुदौली तहसील में एफिडेविट भी बनवाया. इसे नौकरी में लगाए जाने की बात कहकर बनवाया गया था. युवती का आरोप है कि इसी दौरान दारोगा बने अरविंद गौतम ने जनपद के मवई क्षेत्र में एक कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. जब युवती को नौकरी के संबंध में कोई भी जानकारी नहीं मिली तो उसने इस फर्जी दारोगा से सवाल जवाब करना शुरू किया. इसके बाद फर्जी दारोगा अरविंद गौतम कन्नी काटने लगा. मजबूर होकर युवती ने कोतवाली नगर अयोध्या में लिखित शिकायत दर्ज कराई. तहरीर पढ़कर पुलिस अधिकारी भी सन्न रह गए और उन्होंने बेहद गोपनीयता के साथ पूरे मामले की जांच की. प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर नितिन श्रीवास्तव के मुताबिक युवती की तहरीर पर घटना की जांच की गई है. आरोपी फर्जी दारोगा को गिरफ्तार कर लिया गया है. इस कथित दारोगा के पास से पुलिस की वर्दी भी बरामद हुई है.



Advertisement