वैश्य एकता परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष की हत्या

फर्रुखाबाद. वैश्य एकता परिषद के प्रांतीय उपाध्यक्ष सतीश चन्द्र गुप्ता की हत्या कर दी गयी। उनका शव घर के बाहर पड़ा मिला। सूचना पर हड़कंप मच गया। भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर आ गई। मृतक ने चंद दिनों पहले ही एसपी से शिकायत दर्ज करा कर किसी अनहोनी की आशंका जाहिर की थी।

शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला नारायण दास निवासी सतीश चन्द्र गुप्ता वैश्य एकता परिषद के प्रांतीय उपाध्यक्ष थे। वह यहां अपने भतीजे भाजयुमो के जिला मंत्री अंकित गुप्ता के पास रह रहे थे। मंगलवार देर शाम उनका शव घर के बाहर खून से लथपथ पड़ा मिला। जिसके बाद हड़कंप मच गया। घटना की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक वेद प्रकाश पाण्डेय दलबल के साथ मौके पर आ गये।

पुलिस को अंकित ने बताया कि उसकी मां रजनी और बहन लक्ष्मी कायमगंज मौसा संजय गुप्ता के घर बीते मंगलवार को गयी थी। पड़ोसी मिंटू गुप्ता ने शव पड़ा देखा तो अंकित को बताया। जिसके बाद अंकित रात 9 बजे घर पंहुचा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस फिलहाल जाँच कर रही है। घटना के पीछे प्रापर्टी का विवाद का शक जाहिर किया जा रहा है। हत्या कैसे हुई है इसका कारण पता नही चला है। उनके चेहरे पर कई चोटों के निशान हैं। सतीश चन्द्र ने एसपी से मिलकर हत्या की आशंका जाहिर की थी। बीते 6 जुलाई 2017 को प्रापर्टी के विवाद में चलते पेट में गोली मारी गयी थी। मकान को लेकर भाई संजय उर्फ़ संजू से विवाद चल रहा है।



Advertisement