बदमाशों ने किसान पर की फायरिंग, दिखा ख़ौफ़नाक मंजर

मुज़फ्फरनगर। जनपद में कानून व्यवस्ता पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। जनपद में पुलिस के इकबाल पर बदमाश हावी होते दिखाई पड़ रहे हैं। ताजा मामला थाना भोपा क्षेत्र के गांव छछरौली का है जहां शाम के समय अपने खेत पर सिंचाई कर रहे किसान नरेंद्र व उसके नोकर पर बेखोफ़ बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। जिससे किसान और मजदूर ने किसी तरह गन्ने के खेत में घुस घुस कर अपनी जान बचाई बदमाश फायरिंग करते हुए मौके से फरार हो गए।

घटना की सूचना पुलिस और ग्रामीणों को मिली तो मौके पर ग्रामीणों का जमावड़ा लग गया वही मामले की सूचना मिलते ही एसएसपी अभिषेक यादव भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे नगर इस मामले में पुलिस को कोई सफलता हाथ नहीं लगी गौरतलब है कि थाना भोपा क्षेत्र में पिछले कई महीनों से लगातार बदमाशों का आतंक देखने को मिल रहा है। जिसके चलते क्षेत्र के किसानों व्यापारियों और आमजन में दहशत का माहौल है इसी को लेकर गत 17 सितंबर को गांव मोरना में बेखौफ बदमाशों ने एक दवा व्यवसाई अनुज कर्णवाल की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी।

घटना के 6 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। इसी बीच बदमाशों के डर से मर्तक अनुज मृतक अनुज कर्णवाल के परिजन गांव में अपने पुश्तैनी मकान में ताला लगाकर पलायन कर गए क्योंकि घटना के बाद से ही व्यापारियों में जय जत्था कई व्यापारी भी पलायन करने की बात कह चुके हैं। व्यापारियों की अगर मानें तो पिछले कई माह में आधा दर्जन व्यापारी गांव से पलायन कर चुके हैं।

नगर जनपद के तेजतर्रार एसएसपी अभिषेक यादव इस मामले में अभी तक बदमाशों तक नहीं पहुंच सके हैं यहां तक की केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान द्वारा नसीहत देने के बाद भी एसएसपी घटना के 5 दिन बाद मृतक के परिजनों से मिलने पहुंचे थे। मगर उसके चंद घंटे पहले ही मृतक अनुज के परिजन गांव से पलायन कर चुके थे। इस मामले में एसएसपी अभिषेक यादव ने मोरना के चौकी इंचार्ज जगपाल सिंह व एक सिपाही पर गाज गिराते हुए उन्हें सस्पेंड किया है।



Advertisement