रेल यात्रियों को तगड़ा झटका, एसी कोच में सफर करने वालों को अब नहीं मिलेगी ये फ्री सुविधा, चुकाने होंगे पैसे

लखनऊ. एसी कोच में सफर करने वाले यात्रियों को बड़ा झटका देने वाली खबर है। अब अगर आप ट्रेन के एसी डिब्बे में यात्रा करेंगे तो आपको बेडशीट, कंबल, तकिया साथ ले जाना जरूरी होगाी। क्योंकि अब ट्रेन में आपको ये मुफ्त में नहीं मिलेंगे। इन सब की बाकायदा रेलवे प्लेटफॉर्म पर बिक्री की जाएगी। इसका पेमेंट भी यात्री को अपनी जेब से ही देना होगा।

यात्रियों को करना होगा पेमेंट

आपको बता दें कि कई दशक पहले रेलवे ने एसी कोचों में यात्रियों को बेडरोल देने की व्यवस्था शुरू की थी। इसके तहत प्रत्येक यात्री को एक चादर, एक तकिया व एक कंबल दिया जाता था। लेकिन रेलवे ने कोरोना के चलते बेडरोल देना बंद कर दिया। जिसके बाद अब रेलवे ने इससे एक कदम और आगे बढ़कर यात्री के पैसे खर्च करने पर बेडरोल देने का निर्णय लिया है। बिक्री के लिए सारे रेलवे स्टेशनों के प्लेटफॉर्मों पर बाकायदा काउंटर लगाए जाएंगे। जहां से यात्रियों को चादर, मास्क, सेनिटाइजर, तकिया सबकुछ खरीदना होगा।

रेलवे के पीआरओ एसके श्रीवास्तव ने बताया कि कोरोना को देखते हुए ट्रेनों में यात्रियों को बेडशीट सहित दूसरे सामान ट्रेन से पहले की तरह नहीं मिलेंगे। इनको यात्रियों को खरीदना होगा। यह सभी सामग्री प्लेटफॉर्म पर खोले जा रहे काउंटर पर मिलेंगी। जहां से यात्री पेमेंट करके अपनी जरूरत का सामान ले सकेंगे।

ये होंगी कीमतें

- 1 चादर, 1 मास्क, 1 सेनिटाइजर सैशे - 50 रुपये
- 1 चादर, 1 मास्क, 1 सेनिटाइजर सैशे, 1 तकिया - 100 रुपये
- 1 चादर, 1 मास्क, 1 सेनिटाइजर सैशे, 1 कंबल - 150 रुपये
- 1 चादर, 1 मास्क, 1 सेनिटाइजर सैशे, 1 तकिया, 1 कंबल - 250 रुपये



Advertisement