LAC पर तनाव के बीच भारतीय सैनिकों को लद्दाख में मिली बड़ी सफलता, फिंगर 4 की सबसे ऊँची चोटी पर किया कब्ज़ा

LAC पर चीन के साथ तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा. लेकिन इस तनाव के बीच भी भारतीय सेना कई अहम मोर्चों पर कब्ज़ा जमाते हुए चीन को चौंका रही है. इस वक़्त पैंगोंग त्सो झील भारत और चीन के बीच तनाव का केंद्र बना है. भारतीय सेना ने पैंगोंग झील के दक्षिणी और उत्तरी किनारों की कई चोतोयों पर अपना कब्ज़ा कर लिया है. जिसे देख चीन तिलमिलाया हुआ है. इसी तिलमिलाहट में उसने 7 सितम्बर को भारतीय चौकी पर कब्ज़ा करने का प्रयास किया लेकिन उंचाई पर बैठे भारतीय सैनिकों ने उसकी कोशिश को नाकाम कर दिया. अब भारतीय सेना ने एक और बड़ी सफलता हासिल की है.

फिंगर 4 के एरिया में भारतीय सेना सबसे ऊँची छोटी पर पहुँच गई है. इस वक़्त फिंगर 4 की कई चोटियों पर चीन की सेना मौजूद है लेकिन भारतीय जवान चीन के कब्जे वाली चोटियों से भी ऊँची चोटी पर पहुँच गए हैं जहाँ से बाकी चोटियों पर चीन की गतिविधियाँ साफ़ नज़र आ रही है. भारतीय सेना इलाके में ऐसी हाइट्स पर तैनात हैं जो फिंगर-4 को भी डोमिनेट करती है.

पैंगोंग झील के दक्षिण किनारे में जिन जिन हाइट्स पर भारतीय सैनिक तैनात हैं वहां पर अपने इलाके में भारतीय सेना ने तारबंदी लगा रखी हैं. भारत ने चीनी सैनिकों को सख्त चेतावनी दी है कि वह इस तारबंदी को पार करने की कोशिश ना करें वरना गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे. सोमवार 7 सितम्बर को चीनी सैनिक तारबंदी के बेहद नजदीक पहुँच गए थे. उन्हें पीछे हटाने के लिए भारतीय जवानों में हवा में वार्निंग फायर किया. जिसके बाद चीनी सैनिक वापस लौट गए.



Advertisement