बिहार : रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि देने पहुंचे RJD कार्यकर्ता, परिवार वालों ने रोक दिया

बिहार की राजनीति के धुरंधर और राष्ट्रीय जनता दल के संस्थापक सदस्य रहे रघुवंश प्रसाद सिंह का आज निधन हो गया. उनके निधन से राजनीति जगत में शोक की लहर है. वो इलाज के लिए दिल्ली एम्स मे भर्ती थे. निधन के बाद उनके पार्थिव शरीर को इंडिगो की फ्लाइट से दिल्ली से पटना लाया गया. जहाँ रात में उनके पार्थिव शरीर को 143 MLA कॉलोनी कौटिल्य नगर में रखा गया है. सोमवार सुबह उनके पार्थिव शरीर को वैशाली ले जाया जाएगा जहाँ उनके चाहने वाले उनके अंतिम दर्शन कर पायेंगे.

रविवार शाम को पटना पहुँचने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने श्रद्धांजलि दी. उनके साथ डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी समेत और भी नेता मौजूद रहे. RJD कार्यकर्ता भी रघुवंश बाबू को श्रद्धांजलि देने पहुंचे लेकिन उनके परिजनों ने RJD कार्यकर्ताओं को रोक दिया. उसकी वजह पिछले दिनों RJD के साथ रघुवंश बाबू की तल्खी मानी जा रही है. दो दिन पहले ही उन्होंने RJD से अपना इस्तीफ़ा दिया था. उसके बाद उन्होंने एक और चिट्ठी लिखी जीमे उन्होंने बताया कि RJD अपने आदर्शों और सिद्धांतों से भटक कर एक परिवार के 5 लोगों की पार्टी बन कर रह गई है.

रघुवंश प्रसाद सिंह का जन्‍म 6 जून 1946 को वैशाली के शाहपुर में हुआ था. 1977 में जेपी आन्दोलन के दौरान वो राजनीति में आये. RJD के संस्थापक सदस्यों में शामिल रघुवंश प्रसाद सिंह लालू यादव के बेहद करीबी थे. लेकिन जब से पार्टी की कमान लालू यादव के बेटे के पास आई, वो खुद को पार्टी में उपेक्षित महसूस करने लगे. उसके बाद अपने आखिरी दिनों में उन्होंने पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया.



Advertisement