UP में बसपा ने फूंका विधानसभा उपचुनाव का बिगुल, इस सीट से घोषित किया प्रत्याशी

बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश में आठ सीटों पर होने वाले उपचुनाव की घोषणा भले ही अभी नहीं हुई है, लेकिन बहुजन समाज पार्टी अपने उम्मीदवार की घोषणा कर चुनावी बिगुल फूंक दिया है। इसी कड़ी में बुलंदशहर सदर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में काफी दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा। बसपा के पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के प्रभारी शमसुद्दीन राईन ने बुलंदशहर सदर सीट से उम्मीदवार व विधानसभा प्रभारी की शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान घोषणा कर दी है। बसपा ने इस सीट से पूर्व विधायक हाजी अलीम के भाई और सदर ब्लॉक प्रमुख हाजी यूनुस को विधानसभा प्रभारी घोषित किया है।

यह भी पढ़ें- फरार चल रहे सपा नेता पर एसपी ने घोषित किया 25 हजार रुपए का इनाम

दरअसल, शिकारपुर बाइपास स्थित होटल में हुए कार्यक्रम के दौरान शमसुद्दीन राईन ने बताया कि वह बसपा प्रमुख मायावती के डाकिए के तौर पर बुलंदशहर आए हैं। उनके निर्देश पर हाजी यूनुस को सदर विधानसभा का प्रभारी नियुक्त किया गया है। आगामी उपचुनाव में हाजी यूनुस सदर सीट से बसपा प्रत्याशी होंगे। इस दौरान उन्होंने केंद्र और प्रदेश सरकार पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि आज किसान, मजदूर, बेरोजगार युवक परेशान हैं, लेकिन सरकारें कुछ नहीं कर रही हैं।

इस दौरान हाजी यूनुस ने कहा कि इस समय जो हालत प्रदेश की है, उसका जवाब सरकार को उपचुनाव में जनता देगी। उन्होंने कहा कि 2022 के चुनाव में भारी बहुमत से बसपा जीत हासिल कर मायावती को फिर से मुख्यमंत्री बनाएगी। यहां बता दें कि सदर सीट से बसपा के टिकट पर हाजी यूनुस के बड़े भाई हाजी अलीम दो बार विधायक रह चुके हैं। इसलिए इस सीट पर बसपा ने उनके भाई हाजी यूनुस पर दांव खेला है।

वहीं, ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहदुल मुस्लमिन पार्टी (एआईएमआईएम) ने भी शुक्रवार को उपचुनाव के लिए खुर्जा निवासी दिलशाद अहमद को प्रत्याशी घोषित किया है।

यह भी पढ़ें- सीएम योगी ने मेरठ में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए फिर किया नई टीम का गठन



Advertisement