Weather: 44 साल बाद जल्द आएगी सर्दी, पूरे सितंबर बारिश के आसार, जानिये क्यों

मेरठ। इस बार बारिश भले ही कम हुई हो लेकिन तेज सर्दी झेलने के लिए आपको अभी से तैयार होना होगा। सितंबर का दूसरा दिन शुरू हुआ है और धूप में नरमी दिख रही है। हालांकि ये धूप में ये नरमी पिछले दो दिन से बनी हुई है।

मौसम वैज्ञानिक डा0 कंचन सिंह के मुताबिक निम्न दबाव का क्षेत्र पश्चिमी राजस्थान के आगे निकाल गया है और इस समय यह पश्चिमी राजस्थान और इससे सटे पाकिस्तान पर है। जल्द ही यह कमजोर हो जाएगा। मॉनसून की अक्षीय रेखा इस निम्न दबाव के क्षेत्र से उत्तर प्रदेश में मथुरा और बहराइच होते हुए पूर्वोत्तर भारत में हिमालय के तराई क्षेत्रों में पहुँच गई है। वहीं दक्षिण भारत में तमिलनाडु के तटों पर एक ट्रफ बना हुआ है। इस बार बारिश भले ही कम हुई हो, लेकिन ठंड जल्दी आएगी और ज्यादा दिन पड़ेगी। 19 अक्टूबर को दीपावली है।

मौसम एक्सपर्ट कहते हैं कि अक्टूबर के दूसरे पखवाड़े से ही रात का तापमान कम होने लगेगा। ऐसे संकेत मिलने लगे हैं।
इस सीजन में शहर में अब तक 40 फीसदी कम बारिश हुई है। सीजन के तीन महीने जून, जुलाई और अगस्त में से अगस्त में सबसे कम पानी बरसा है।

मौसम विशेषज्ञ पहले ही कह चुके हैं कि अब सीजन का कोटा पूरा होने के आसार खत्म ही हो गए हैं। इसके बावजूद इस बार ठंड जल्दी दस्तक दे सकती है। विंड पैटर्न यानी हवा का रुख जल्दी सेट होने का भी अनुमान लगाया गया है। 5 सितंबर के बाद से रात के तापमान में 2-3 डिग्री की गिरावट हो सकती है। हवा का रुख बदलकर उत्तर-पश्चिमी हो सकता है।

सितंबर में बारिश का एक दौर और आने का अनुमान है। इसके बाद 20 सितंबर के आसपास मानसून के विदाई की संभावना है।



Advertisement