योगी सरकार 14 नहीं 14 सौ मुकदमे लिखे वे जनता के बुनियादी मुद्दे उठाते रहेंगे : संजय सिंह

सुलतानपुर. आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने यूपी सीएम पर तीखे बाण छोड़ते हुए कहाकि, सरकार चाहे जितने मुकदमे दर्ज करवाए, लेकिन वो दलित और पिछड़ों और ब्राह्मणों की आवाज उठाते रहेंगे। वे बाबा योगी आदित्यनाथ की तरह सदन या फिर किसी के सामने रोने वाले व्यक्ति नहीं हैं। दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यकों और ब्राह्मणों को टारगेट करके सरकार में अत्याचार हो रहा है।

मैं बाबा की तरह रोने वाला नहीं :- यूपी में महिलाओं के साथ बढ़ते हुए अपराध पर सांसद संजय सिंह ने एक कार्यक्रम में कहाकि, आदित्यनाथ सरकार में उत्तर प्रदेश बेटियों के लिए कब्रगाह बन गया है। सरकार चाहे जितने मुकदमे दर्ज करवाए, लेकिन मैं बाबा की तरह रोने वाला नहीं हूं।

बलात्कार की घटनाओं की भरमार :- आप सांसद संजय सिंह ने आगे कहा कि मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं हो रही हैं। हाथरस में वाल्मीकि समाज की बच्ची के साथ घटना हुई, उसके गले की हड्डी तोड़ दी गई, कई दिन तक इलाज नहीं मिला और उसकी डेथ हो गई।

बेटी बचाओ कागजी नारा :- सांसद संजय सिंह ने हाथरस की घटना की चर्चा छेड़ते हुए कहा कि अलीगढ़ मेडिकल कालेज के डाक्टर्स की रिपोर्ट है कि हाथरस पीड़िता के साथ बलात्कार हुआ था, लेकिन इसके बावजूद एडीजी प्रशांत कुमार कह रहे हैं कि बलात्कार नहीं हुआ। इसका मतलब है़ सरकार गुंडों के साथ, माफियाओं के साथ, बलात्कारियों के साथ खड़ी है़। भाजपा जघन्य अपराध करने वालों के साथ खड़ी है। इसलिए मिशन शक्ति जो इनका नारा है, बेटी बचाओ जो इनका नारा है वो कागजी नारा है। सिर्फ उस पर विज्ञापन किया जा रहा है। जमीन पर हकीकत एकदम अलग है। खासकर दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यक को टारगेट करके इस सरकार में अत्याचार हो रहा है।

जनता के बुनियादी मुद्दे उठाता रहूंगा :- उन्होंने कहा मैंने उनसे कहा है़ मैं रोने वाला व्यक्ति नहीं हूं, 14 नहीं 14 सौ मुकदमे लिखिए लेकिन जो जनता के बुनियादी मुद्दे हैं मैं उसको उठाता रहूंगा। चार महीने में 14 मुकदमे किसी माफिया पर नहीं हुए, उत्तर प्रदेश में संजय सिंह पर हुए। देश द्रोह का मुकदमा मेरे ऊपर लगवा दिया, लेकिन मैं बाबा की तरह रोने वाला व्यक्ति नहीं हूं।



Advertisement