अयोध्या की सीमा विस्तार में 343 गांव होंगे शामिल

अयोध्या : राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू होने के साथ अयोध्या के विस्तार का नया खाका तैयार किया गया है। जल्द ही अयोध्या के सीमा विस्तार में गोंडा व बस्ती के 343 गांव होंगे शामिल होंंगे। जिसके लिए अयोध्या विकास प्राधिकरण, नगर निगम व हाउसिंंग बोर्ड विभाग के समायोजित किया जाएगा। जिला प्रशासन द्वारा इस योजना का प्रस्ताव भेजा जा चुका है।

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व्यक्तिगत तौर पर शामिल हुए। इस दौरान अयोध्या को सांस्कृतिक व आर्थिक रूप से विकसित किए जाने की मंशा जाहिर की थी। प्राचीन अयोध्या के सौंदर्यीकरण के साथ ही आसपास के क्षेत्रों को विकसित को लेकर जल्द ही अयोध्या के विकास संबंधित योजना की घोषणा कर सकते हैं वही उत्तर प्रदेश सरकार भी अयोध्या का सीमा विस्तार करने के लिए खाका तैयार किया है। अयोध्या में गोंडा के नवाबगंज व बस्ती के विक्रमजोत ब्लॉक के 343 गांव अयोध्या में शामिल किया जा सकता है। जिसके साथ ही सरयू नदी से 8 किलोमीटर के जुड़ने वाले क्षेत्रों को पर्यटन हब बनाए जाने की योजना है।

अयोध्या विकास प्राधिकरण के सचिव आरपी सिंह के मुताबिक अयोध्या विकास प्राधिकरण का सीमा विस्तार किया जाएगा यह सीमा विस्तार अयोध्या नगर सीमा से क्षेत्र 8 किलोमीटर सरयू नदी के उस पार गोंडा जनपद के नवाबगंज और बस्ती जिले के हरैया तहसील के अंतर्गत पढ़ने वाली विक्रमजोत ब्लॉक के गांव को अयोध्या विकास प्राधिकरण के अंदर लाया जाएगा जिससे इन क्षेत्रों का समुचित विकास किया जा सके बताया कि अयोध्या विकास प्राधिकरण में जुड़ने वाले क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा दिए जाने को लेकर तमाम योजनाएं शिव विकसित करने की योजना है जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिल सके वही बताया कि सीमा विस्तार सहित अयोध्या के संपूर्ण विकास को लेकर 2031 तक के योजना बनाई जा चुकी है।



Advertisement