महिलाओं के खरीद-फरोख्त के गिरोह की सदस्य गांव में, सूचना पर पहुंची पुलिस 4 महिलाओं को...

उन्नाव. 112 पर मिली सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने गैर जनपद की 4 महिलाओं को गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई। साथ ही गृह स्वामी और उसके बेटे को भी लाकर पूछताछ कर रही है। इस संबंध में सदर कोतवाली प्रभारी ने बताया कि मामला माखी थाना का होने के कारण सभी को माखी थाना पुलिस को सूचित कर उनके हवाले कर दिया गया। उन्होंने बताया कि 112 को सूचना मिली थी कि किसी गिरोह की महिला सदस्य गांव में डेरा डाले हैं। जिस पर मौके पर पहुंची पीआरबी ने उपरोक्त कार्रवाई की। क्षेत्राधिकारी सफीपुर ने बताया कि 4 महिलाओं सहित कुल 6 लोगों से पूछताछ की जा रही है। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

माखी थाना क्षेत्र के थाना गांव से पकड़ी गई महिलाओं में 65 वर्षीय मऊ निवासिनी वृद्धा ने बताया कि उसे बहला-फुसलाकर 3 दिन पहले अयोध्या दर्शन के नाम पर साथ लिया गया था। उसके पैसे भी ले लिए गए। कानपुर में फिर उससे पैसे की मांग की गई। मऊ निवासी दो अन्य महिलाओं ने बताया कि वह चूड़ी के व्यापारी हैं और फिरोजाबाद चूड़ी लेने जा रहे हैं। जबकि एक अन्य बलिया की एक अन्य महिला ने बताया कि वह यादव ईसाई है और जिसके जहां रुकी थी वह भी इसाई है। जबकि वह कटियार परिवार से था। पकड़े गए व्यक्ति ने बताया कि महिलाओं को खाना खिलाने के लिए घर लाया था। जहां से पुलिस ले आई। इस मामले में दुर्गा मिस्त्री का नाम भी सामने आ रहा है।

क्षेत्राधिकारी सफीपुर ने कहा

इस संबंध में क्षेत्राधिकारी सफीपुर ने कहा कि 4 महिलाओं सहित दो पुरुषों को गिरफ्तार किया गया है। जांच के उपरांत कुछ कहा जा सकता है। महिलाओं के परिजनों को बुलाया गया है। ऐसे में संभावनाएं कई है। महिलाएं किसी खतरनाक गिरोह की सदस्य हो सकती हैं या फिर धर्म परिवर्तन से जुड़ी है, इन सबसे इतर महिलाएं जो कह रहे हैं वह भी सच हो सकता है। पुलिस सभी एंगल से जांच कर रही है। माखी के थाना पुलिस ने बताया कि महिलाओं के परिजनों को बुलाया गया है।



Advertisement