50 हजार के ईनामी चिटकू यादव को इनकाउंटर में लगी गोली, पुलिस टीम पर की ताबड़तोड़ फायरिंग

चंदौली. उत्तर प्रदेश के चंदौली में चेकिंग के दौरान पुलिस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर भाग रहे 50 हजार रुपये के ईनामी बदमाश चिटकू यादव को पुलिस ने मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया है। बदमाश की फायरिंग में पुलिसकर्मी बाल-बाल बच गए। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें वह घायल हो गया और पकड़ा गया। उस पर चंदौली व गाजीपुर सहित बिहार के कई जिलों में हत्या, लूट और डकैती जैसे संगीन मामले दर्ज हैं। पकड़ा गया बदमाश कुछ माह पूर्व सदर कोतवाली के धुरीकोट गांव में युवक की हत्या का मुख्य आरोपी भी है। फिलहाल उसे इलाज के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

 

घायल बदमाश आशुतोष उर्फ चीकू यादव बलुआ थाने का हिस्ट्रीशीटर है। पुलिस का दावा है कि बलुआ तिराहे पर चेकिंग के दौरान जब बाइक सवार दो युवकों को पुलिस ने रोकना चाहा तो वो फायरिंग कर भुपौली की ओर भागने लगे। पुलिस ने कंट्रोल रूम को सूचित कर उनकर पीछा किया। अलीनगर पुलिस और मुगलसराय कोतवाली पुलिस कुरहना गांव के पास घेरेबंदी कर बदमाश का इंतजार करने लगे। कुरहना गांव के पास रिंग रोड पर दो युवक बाइक से आते दिखाई दिए तो पुलिस ने रोकने का प्रयास किया, जिसपर वो फायरिंग कर भागने लगे।

 

जवाबी फायरिंग में बदमाश चिटकू यादव के पैर में गोली लगी और वह बाइक सहित सड़क पर गिर गया। हालांकि एक बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया। पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम आशुतोष उर्फ चिटकु यादव बताया। वह बलुआ थाना क्षेत्र के नादी निदौरा गांव का रहने वाला है। अपर पुलिस अधीक्षक प्रेमचंद ने बताया की घायल बदमाश आशुतोष उर्फ़ चिटकु यादव बलुआ थाने का हिस्ट्रीशीटर है। उस पर चंदौली व गाजीपुर सहित बिहार के कई थानों में हत्या लूट डकैती जैसे गंभीर मामले दर्ज हैं। अकेले बलुआ थाने में दर्जन भर से अधिक मुकदमे दर्ज हैं।

By Santosh Jaiswal



Advertisement