हाथरस जैसी एक और हैवानियत, बलरामपुर में दुष्कर्म के बाद तोड़े पीड़िता के पैर और कमर, आजमगढ़, और फतेहपुर में भी दरिंदगी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में एक के बाद एक लगातार दुष्कर्म की घटनाएं सामने आ रही हैं। हाथरस के जघन्य अपराध (Hathras Incident) की शिकार होने वाली पीड़िता की मौत के बाद बीते 24 घंटे के अंदर उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में डराने वाली घटना सामने आई है। इसके अलावा आजमगढ़, बुलंदशहर और फतेहपुर में भी हैवानियत भरी घटना सामने आई है।

बलरामपुर के कोतवाली गैंसड़ी क्षेत्र में एक 22 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। अस्पताल ले जाने के दौरान उसकी मौत हो गई। पीड़िता की मां के अनुसार, दरिदों ने उनकी बेटी की कमर और पैर तोड़ दिए थे। इस हैवानियत के बाद उनकी बेटी खड़ी नहीं हो पा रही थी।

पीड़िता की मां के अनुसार, उनकी बेटी मंगलवार को करीब दस बजे कॉलेज में एडमिशन के लिए गई थी। तभी कुछ लड़कों ने उसका अपहरण कर लिया और उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। शाम तक न लौटने पर परिजनों ने उसे फोन करना शुरू किया तो उसका फोन बंद आ रहा था। लड़की को एक रिक्शा वाला एक नाबालिग बच्चे के साथ बेहोशी की हालत में तकरीबन सात बजे लेकर आया। लड़की की हालत बेहद खराब थी और वो कुछ भी नहीं बोल पा रही थी। उसके हाथ पर ग्लूकोज चढ़ाने वालार ड्रिप लगा हुआ था।

परिजन उसे लेकर स्थानीय डॉक्टर के पास ले गए लेकिन गम्भीर हालात देखते हुए उसने लखनऊ ले जाने को कहा। लेकिन तुलसीपुर हॉस्पिटल पहुंचने से पहले ही पीड़िता ने दम तोड़ दिया।

ये भी पढ़ें: ऑपरेशन शक्ति' के तहत महिलाओं की होगी सुरक्षा, चिन्हित स्थानों पर महिला पुलिसकर्मी होंगी तैनात

इंजेक्शन लगाकर किया दुष्कर्म

पीड़िता की मां का आरोप है कि आरोपियों ने रेप की वारदात को अंजाम देने से पहले उनकी बेटी को इंजेक्शन लगाया। हैवानियत की वारदात को अंजाम देने के बाद उसकी कमर और पैर तोड़ दिए जिससे कि वह उनके खिलाफ कोई सबूत न दे सके। इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

आजमगढ़ में आठ साल की बच्ची से दुष्कर्म

आजमगढ़ के जीयनपुर क्षेत्र के एक गांव में आठ साल की बच्ची के साथ 20 वर्षीय युवक ने रेप किया। बच्ची की मां का आरोप है कि पड़ोस के ही एक युवक दानिश ने उनकी बेटी को नहलाने के बहाने अपने घर ले आया और उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। बच्ची की मां ने पुलिस कम्प्लेन की जिसके आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

ये भी पढ़ें: यूपी के मेडिकल कॉलेज में रिटायर्ड डॉक्टरों की संविदा पर भर्ती को मंजूरी

आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि बच्ची की मां की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। इस मामले में आरोपी दानिश को गिरफ्तार कर लिया गया है। बच्ची का मेडिकल कराया जा रहा है।

फतेहपुर में बच्ची हुई लापता

फतेहपुर के ललौली थानाक्षेत्र में सात साल की बच्ची को हैवानियत का शिकार बनाया गया। थाना प्रभारी निरीक्षक संदीप तिवारी ने बताया कि बच्ची अपने घर से कुछ दूरी पर खेल रही थी। कुछ देर बाद वह लापता हो गई। गांववालों ने जब बच्ची को ढूंढा तो पता चला कि उसे पड़ोसी गांव के अनिल निषाद (20) ले गया है। बच्ची के रोने-चिल्लाने की आवाज सुनकर खेतों में काम कर रहे लोग जब वहां पहुंचे, तो उन्होंने बच्ची को आपत्तिजनक हालत में देखा। उन्होंने युवक को दौड़ाकर पकड़ लिया।

पड़ोसी ने किया 14 साल की बच्ची से दुष्कर्म

बुलंदशहर में एक 14 साल की नाबालिग के साथ उसके पड़ोसी ने दुष्कर्म किया। नाबालिग युवती ने आरोप लगाया है कि नशीला पदार्थ सुंघाकर पड़ोसी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोप के मुताबिक, जब वो सो रही थी तो पड़ोस में रहने वाला एक युवक घर में आया और उसके साथ जबरदस्ती की। जब युवती ने शोर मचाने की कोशिश की तो आरोपी ने तेजाब डालने की धमकी दे दी। इस मामले में लड़के के पिता ने बुधवार रात को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि लड़के के पिता ने पड़ोस के रहने वाले रिजवान (20) पर रेप का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपी रिजवान को गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़ें: हाथरस कांड मामले को लेकर सपा महिला सभा ने निकला कैंडल मार्च



Advertisement