भाजपा नेता ने महिला को कहा रिया चक्रवर्ती तो थाने में चले लात—घूंसे

मेरठ। भाजपा सांसद का करीबी एक भाजपा नेता को थाने में एक महिला को रिया चक्रवर्ती कहना भारी पड़ गया। थाना परिसर में ही भाजपा नेता और महिला के परिजनों के बीच जमकर मारपीट हुई। वहीं पुलिस मूक दर्शक बनी रही। सत्ता के अहंकार में डूबे भाजपा नेता ने थाने से ही भाजपा सांसद को फोन किया। सांसद के पास भाजपा नेता का फोन पहुंचा तो अधिकारियों तक खलबली मच गई। मामले को संभालने के लिए एसपी सिटी डा0 एएन सिंह थाने पहुंचे और पूरे मामले को समझौते में तब्दील करा दिया। महिला पक्ष और भाजपा नेता के बीच समझौता हो गया।


घटना थाना नौचंदी क्षेत्र के शास्त्री नगर की है। जहां पर सांसद का करीबी भाजपा नेता का भाई व्यापारी के पड़ोस में रहता है। व्यापारी की पत्नी का आरोप है कि भाजपा नेता का भाई छत पर खड़े होकर अश्लील इशारे करता है। व्यापारी की पत्नी ने पड़ोसी भाजपा नेता के भाई पर अश्लील इशारे करने का आरोप लगाते हुए नौचंदी थाने में इसकी शिकायत की थी। आरोप है कि वह उन्हें देखकर छत पर कपड़े उतार कर खड़ा हो जाता है। उल्टा उन्हें ही जेल भिजवाने की धमकी देता है। भाजपा नेता और महिला पक्ष के कुछ लोग थाने पहुंच गए। थाने में दोनों पक्ष समझौता कर रहे थे। तभी भाजपा नेता ने महिला को अपशब्द कहते हुए रिया चक्रवर्ती की संज्ञा दे दी। इस पर दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया। इसी बीच भाजपा नेता ने थाने से ही सांसद राजेंद्र अग्रवाल को फोन किया। सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने एसएसपी अजय साहनी को फोन कर दोनों पक्षों में समझौता कराने की बात कही। इस पर एसएसपी ने एसपी सिटी डा0 एएन सिंह को थाने भेजा और दोनों पक्षों में समझौता कराया गया।

इस बारे में जब सांसद राजेंद्र अग्रवाल से बात की गई तो उनका कहना था कि उनके पास विवाद की सूचना आई थी। पुलिस अफसरों से समझौते के लिए कहा था क्योंकि हर विवाद का अंत बातचीत से संभव है। वहीं थाने में महिला ने भाजपा नेता के भाई पर गंभीर आरोप लगाए। व्यापारी की पत्नी का कहना था कि उन्होंने इसकी शिकायत भाजपा नेता की पत्नी कही। भाजपा नेता की पत्नी ने कहा कि उनका देवर तो उनके ऊपर भी बुरी नजर रखता है। व्यापारी की पत्नी का आरोप था कि भाजपा नेता कई बार सांसद के नजदीकी होने की धमकी दे चुका है।



Advertisement