दहेज के लिये महिला जिंदा जलाया, पति सहित तीन के खिलाफ मुकदमा

आजमगढ़. मेंहनगर थाना क्षेत्र के सपनहर गांव में विवाहिता को जलाकर मार डालने का मामला सामने आया है। ससुराल पक्ष का दावा है कि विवाहिता गैस समाप्त होने के कारण स्टोव पर खाना बना रही थी उसी दौरान स्टोव फ टने से उसकी मौत हो गयी जबकि मायके पक्ष के लोगों ने दहेज के लिए विवाहिता को जलाकर मार डालने का आरोप लगाया है। मायके पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने पति सहित तीन के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


गंभीरपुर थाना क्षेत्र के मंगरावा गांव निवासी सूबेदार ने अपनी पुत्री नीतू (28) की शादी वर्ष 2012 में मेंहनगर थाना क्षेत्र के सपनहर गांव निवासी राजेश के साथ की थी। ससुराल पक्ष के मुताबिक नीतू बुधवार की सुबह गैस पर भोजन बना रही थी। गैस खत्म होने पर वह स्टोव जलाकर भोजन बनाने लगी। उसी दौरान स्टोव फट जाने से लगी आग में झुलस गई। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से रेफर कर दिये जाने पर शहर के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी मौत हो गयी।


मायका पक्ष के लोग पहुंचे तो शव लेकर गंभीरपुर थाने पर चले गए। गंभीरपुर थानाध्यक्ष ने घटना मेंहनगर थाना क्षेत्र की घटना बताकर उन्हें वहां भेज दिया। मेंहनगर थाने पहुंचकर मृत विवाहिता की मां परमशीला देवी ने अपने दामाद राजेश, उसके पिता महेश व मां रजौती देवी पर दहेज के लिए बेटी को जलाकर मार डालने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी। पुलिस ने तीनों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थानाध्यक्ष मेंहनगर प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

BY Ran vijay singh



Advertisement