पत्नी ने शराब के लिए पैसा देने से किया मना तो पति ने गला दबाकर की हत्या

आजमगढ़. निजामाबाद थाना क्षेत्र के पुरानी तहसील के पास एक सनसनीखेज वारदात समाने आयी है। यहां पति ने सिर्फ इसलिए पत्नी की हत्या कर दी क्योंकि उसने शराब पीने के लिए पैसा नहीं दिया। महिला की हत्या से परिवार में हड़कंप मच गया। मृतका का शराबी पति घर के बर्तन तक बेचकर शराब पी गया था जिसे लेकर आये दिन पति पत्नी में विवाद होता था। शुक्रवार की सुबह घटना की जानकारी होने पर पुलिस ने पति को हिरासत में ले लिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

निजामाबाद थाना क्षेत्र के स्थानीय कस्बा के शीतला धाम रोड पर पुरानी तहसील परिसर के पास कुम्हारों को भूमि आवंटन हुआ है। मेंहनगर थाना क्षेत्र के भटकासोपुर निवासी सरेंद्र प्रजापति अपने परिवार के साथ पुरानी तहसील कालोनी में रहता है। बताते है कि सुरेंद्र को शराब पीने की लत लग गयी है। वह प्रतिदिन शराब पीकर घर में विवाद करता था। वह पत्नी सुनीता 30 से शराब पीने के लिए पैसे मांगता जब वह नहीं देती तो घर के सामान बेचकर शराब पीता था। विरोध करने पर वह उसे मारता पीटता था।

गुरुवार की रात करीब 11 बजे शराब के पैसे को लेकर पति पत्नी में विवाद हुआ और सुरेंद्र ने गुस्से में अपनी पत्नी सुनीता का गला घोटकर हत्या कर दी। पत्नी को मारने से पहले उसने अपने बच्चों को दूसरे कमरे में बंद कर दिया था। रात भर शव घर में ही पड़ा रहा। सुरेंद्र भोर में घर से बाहर निकला और सबुह लौटा तो नशे में था। उसने ही पास पड़ोस के लोगों को बताया कि उसकी पत्नी की मौत हो गयी है। इसके बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचित कर दिया। थानाध्यक्ष निजामाबाद शिवशंकर सिंह मौके पर पहुंचे और आरोपी को हिरासत में लेने के साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

स्थानीय लोगों के मुताबिक सुनीता सुरेंद्र की दूसरी पत्नी थी। इससे एक पुत्र व एक पुत्री हैं। सुरेंद्र की पहली पत्नी मंजू की बीमारी के चलते निधन के बाद सुनीता से शादी की थी। मंजू की भी दो बेटियां है। पति के शराबी होने व काम न करने के कारण सुनीता के लिए चार बच्चों का भरण पोषण मुश्किल था। इसलिए सुरेंद्र जब भी पैसा मांगता वह देने से इनकार कर देती थी। थानाध्यक्ष शिव शंकर सिंह का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

BY Ran vijay singh



Advertisement