अब यूपी के स्कूलों में पढ़ाया जाएगा महिलाओं के सम्मान और सशक्तिकरण का पाठ, पाठ्यक्रम में शामिल होगा विषय

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के स्कूलों में अब बच्चों को महिलाओं के सम्मान और सशक्तिकरण की सीख दी जाएगी। यूपी के योगी सरकार बेसिक और माध्यमिक शिक्षा के पाठ्यक्रमों में इस प्रकार के विषयों को शामिल करने जा रही है। इस बदलाव के लिए शिक्षा विभाग द्वारा प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। शिक्षा विभाग के प्रवक्ता के अनुसार आने वाले दिनों में बेसिक और माध्यमिक के विद्यार्थी महिलाओं से जुड़े मुद्दों के बारे पढ़ सकेंगे। केवल बेटियां ही नहीं, बेटों को भी महिला सशक्तिकरण का पाठ पढ़ाया जाएगा।

बासंतिक नवरात्र तक चलेगी अभियान

उत्तर प्रदेश में शारदीय से बासंतिक नवरात्र तक चलाए जा रहे मिशन शक्ति के तहत गत 25 अक्टूबर तक उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश के 6339 कालेजों में 5,57,383 छात्र-छात्राओं को वेबिनार, गोष्ठियां व प्रतियोगिता आदि के माध्यम से जागरूक किया गया। मिशन शक्ति अभियान के दूसरे चरण का माइक्रोप्लान तैयार किया जा रहा है। इसमें पोर्टल तैयार करके विभिन्न विभागों में संचालित कार्यक्रमों की जानकारी व फोटो आदि अपलोड की जाएंगी। इस पोर्टल पर एक क्लिक पर महिलाओं से संबंधित सभी जानकारियां उपलब्ध होंगी।

साइबर सुरक्षा के जुड़ा क्विज 1 नवम्बर को होगा लांच

यूपी में मिशन शक्ति अभियान के तहत 1,46,177 शिक्षकों ने नौ दिन में 3,13,996 छात्रों को जागरूक किया और शपथ ग्रहण कराई। मार्शल आर्ट की ऑनलाइन व ऑफलाइन कार्यशालाओं में 3007 कॉलेजों की 4,46,355 छात्राओं को प्रशिक्षित किया गया। इसके अलावा निबंध, पोस्टर लेखन, स्लोगन व प्रश्नोत्तरी प्रयोगिताओं में 2,57,036 छात्राओं ने हिस्सा लिया। लैंगिक समानता, घरेलू हिंसा से सुरक्षा, पाक्सो व महिला हेल्पलाइन से जुड़े कार्यक्रम दूसरे चरण में आयोजित किए जाएंगे। एक नवंबर को एनएसएस के जरिए साइबर सुरक्षा के जुड़े क्विज को लांच किया जाएगा।



Advertisement