कोरोना की जटिलताएं कम होने के साथ देवबंद दारुल उलूम की अहम बैठक शुरू

पत्रिका न्यूज नेटवर्क, सहारनपुर। कोरोना काल के बाद से बंद चल रहे इस्लामिक शिक्षा के केंद्र देवबंद दारुल उलूम ( darul uloom deoband )की एग्जीक्यूटिव कमेटी ( मजलीस-ए-ससुरा की तीन दिवसीय बैठक सोमवार आज से शुरू हो रही है। इस बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए जाने की उम्मीद है। यही कारण है कि देश ही नहीं दुनियाभर के मुस्लिमों की नजरें अब इस बैठक पर लगी हुई हैं।

यह भी पढ़ें: Good news 15 अक्टूबर से नए नियमों के साथ पटरी पर दौडेगी शताब्दी एक्सप्रेस

कोरोना संक्रमण के चलते देशभर में लॉकडाउन किया गया था। इसी क्रम में 20 मार्च को देवबंद दारुल उलूम के दरवाजे भी बंद हो गए थे। वायरस की जटिलता को देखते हुए इस बार देवबंद दारुल उलूम ने नया शैक्षणिक सत्र शुरू करने से भी इनकार कर दिया था और प्रवेश परीक्षाएं भी रद्द कर दी थी। सोमवार आज शुरू होने वाली मजलीस-ए-सूरा की बैठक में भाग लेने के लिए देश भर से सदस्य देवबंद पहुंचेंगे।

यह भी पढ़ें: दादरी के NTCP प्लांट में तेंदुआ दिखाई देने से मचा हड़कंप, वन विभाग की दो टीमें सर्च ऑपरेशन में जुटी

मुख्य रूप से इस बैठक में देवबंद दारुल उलूम का 2020-21 के वित्तीय बजट पर चर्चा हाेगी। बैठक में 6 माह से बंद देवबंद दारुल उलूम में इस्लामी तालीम को पुनः शुरू किए जाने पर भी चर्चा होगी। अब देखना यह है कि तीन दिन तक चलने वाली इस बैठक में क्या निर्णय लिए जाते हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक में संस्था के रिक्त चल रहे महत्वपूर्ण पदों को लेकर भी निर्णय किए जा सकते हैं। इस बैठक पर अब देश भर में मौजूद देवबंद दारुल उलूम के स्टूडेंट्स के साथ साथ पूरे इस्लामिक जगत की नजरें लगी हुई हैं कि इस बैठक में क्या निर्णय लिए जाते हैं।



Advertisement