डीएम और सीएमओ का यह फैसला बना मिसाल, जिसने भी सुना सिर झुका दिया

लखीमपुर-खीरी. बुधवार का दिन जनपद खीरी के लिए अद्भुत रहा। डीएम और सीएमओ के साहसिक एवं त्वरित निर्णय से एक कोविड संक्रमित महिला ने जिला महिला चिकित्सालय में सीजर ऑपरेशन के उपरांत रात्रि आठ बजकर 51 मिनट पर एक कन्या को जन्म दिया। जिला मुख्यालय पर एक गर्भवती महिला जो प्रसव का समय नजदीक आते ही कोविड संक्रमित हो गयी, उस महिला का गर्भावस्था के दौरान इलाज एक निजी चिकित्सालय में चल रहा था। प्रसव का समय आते ही इसके संक्रमित होने पर सभी ने उसका प्रसव कराने पर हाथ खड़े कर दिए। इस बात की भनक जैसे ही खीरी के डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह को लगी। उन्होंने तुरंत सीएमओ के साथ उक्त महिला के प्रसव कराने को लेकर रणनीति तय की।

डीएम का निर्देश मिलते ही सीएमओ मनोज अग्रवाल ने तय रणनीति के मुताबिक मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. नसरीन रसूल ने तैयारियां शुरू कर दी। फिर क्या था जिला महिला चिकित्सालय में सतर्कता और सावधानी को रखते हुए ऑपरेशन थिएटर में सीजर ऑपरेशन के माध्यम से उसका सकुशल प्रसव कराया गया। प्रसव के दौरान उक्त महिला ने एक कन्या को जन्म दिया, जो स्वस्थ पैदा हुई।

उक्त महिला का प्रसव जिला महिला चिकित्सालय में चिकित्सक डॉ. सुषमा (सर्जन), एनएथेटिस्ट डॉ. एसके मिश्रा, बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. अजय, स्टाफ नर्स मीरा जैदी, टेक्नीशियन संजय सिंह सहित उनकी पूरी टीम ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उक्त महिला का प्रसव कराया।



Advertisement