सब्जियों की कीमतें छू रही हैं आसमान, प्याज ने हॉफ सेंचुरी बनाई

सुलतानपुर. सब्जियों की कीमतें आसमान छू रही हैं। अब सब्जियों को खरीदने के बारे में सोचना पड़ता है कि कितनी सब्जी खरीदें एक किलोग्राम या आधा। सब्जी मार्केट में जाने वाले लोग अब सब्जियां किलोग्राम में नहीं खरीद रहे हैं, बल्कि आधा किलो और पाव में खरीदारी कर रहे हैं। सब्जी मंडी में प्याज के दाम ने तो हॉफ सेंचुरी बना ली है। कुछ सब्जी विक्रताओं को मानना है कि बारिश की वजह से सब्जियों को भारी नुकसान हुआ है पर ग्राहकों को कहना है कि मार्केट में ढेर सारी सब्जियां और उसे बेचने वाले हैं पर दाम से कोई समझौता नहीं कर रहा है। सिर्फ कालाबाजारी हो रही है।

जिले में सितंबर-अक्टूबर महीने में हुई जोरदार बारिश धान और दलहन की फसलों के लिए भले ही उपयोगी साबित हुई हो लेकिन सितंबर माह के अंतिम सप्ताह और अक्टूबर माह के पहले सप्ताह में हुई बारिश ने सब्जी किसानों की कमर तोड़ दी है। जिले में हुई भारी बारिश से सब्जी मंडी में सब्जियों के भाव इस कदर बढ़ गए हैं कि आम आदमी सब्जियों के भाव पूछकर आगे बढ़ जा रहे हैं। कुछ दिनों पहले तक 20 से 25 रुपए प्रति किलोग्राम बिकने वाली प्याज के दाम अचानक 55 से 60 रुपए किलो बिकने लगी। सब्जियों के दामों में आई तेजी से आम आदमी सब्जियों की जगह दाल का सहारा ले रहा है।

नवीन कृषि मंडी के आढ़तिया बबलू राइन ने कहा कि अक्टूबर माह में तीन दिन तक लगातार बारिश होने से ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाली सब्जियों की आवक कम हो गई है और मंडी में जो सब्जियां पहुंच रही हैं, वह बाहर से आने वाली सब्जियां हैं, जो सब्जी मार्केट में मंहगी बिक रही हैं। उन्होंने बताया कि अमूमन प्याज नासिक से आती है लेकिन इस बार नासिक में भी प्याज सड़ जाने से प्याज के दाम बढ़े हैं जो कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं।

सब्जियों के फुटकर रेट

हरी धनिया - 160 रुपए
आलू - 40 रुपए
घुइयां- 30 रुपए
हरा मिर्चा - 65 रुपए
नेनुआ- 30 रुपए
कद्दू (कोहड़ा ) - 30 रुपए
परवल- 80 रुपए
टमाटर- 60 रुपए
बैगन- 40 रुपए
पालक- 50 रुपए
प्याज- 40 से 45 रुपए

नोट- सभी सब्जियों के भाव रुपये प्रति किलोग्राम ।



Advertisement